Danik Bhaskar National News #bharatpages bharatpages.in

Danik Bhaskar National News

https://www.bhaskar.com/rss-feed/2322/ 👁 94714

भारत को मिला फ्रांस का साथ; मैक्रों ने कहा- कश्मीर द्विपक्षीय मसला, तीसरा पक्ष बीच में नहीं आ सकता


पेरिस. फ्रांस ने कश्मीर मामले पर भारत का साथ दिया है। गुरुवार रात प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ साझा बयान में फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों ने जम्मू-कश्मीर का जिक्र करते हुए कहा कि इस मामले में भारत और पाकिस्तान को ही द्विपक्षीय तरीके से हल खोजना होगा। किसी तीसरे पक्ष को इसमें हस्तक्षेप करने की कोशिश नहीं करनी चाहिए और न ही क्षेत्र में हिंसा फैलाने की कोशिश हो। मैक्रों ने कहा कि कश्मीर में शांति के साथ लोगों के अधिकारों की रक्षा होनी चाहिए।

इससे पहलेमैक्रों ने गुरुवार को मोदी से शान्तियी शहर में मुलाकात की। मैक्रों ने यहां मोदी को फ्रांस की प्राचीन धरोहर शैटो डी शान्तियी (शान्तियी के महल) की सैर कराई। इस दौरान उन्होंने मोदी को सैकड़ों साल पुराने महल का इतिहास बताया। दोनों के बीच करीब डेढ़ घंटे तक द्विपक्षीय वार्ता हुई।बैठक के बादसाझा प्रेस कॉन्फ्रेंस मेंमोदी ने कहा कि जी-7 समिट के लिए राष्ट्रपति मैक्रों का आमंत्रण मेरे प्रति उनके मैत्री भाव का उदाहरण है। प्रधानमंत्री नेकहा कि क्रॉस बॉर्डर टेररिज्म का मुकाबला करने में भारत को फ्रांस का बहुमूल्य समर्थन मिला है। उन्होंने इसके लिए मैक्रों का धन्यवाद किया।

फ्रांस और भारत एक-दूसरे केभरोसेमंद पार्टनर

मोदी ने इसे दोनों देशों की दोस्ती के लिए यादगार पल बताते हुए कहा, “हेरिटेज साइट पर मेरा और मेरे डेलिगेशन का भव्य और स्नेहपूर्वक स्वागत किया गया। इसके लिए मैक्रों का शुक्रिया।”प्रधानमंत्री ने जी-7 के एजेंडे को पूरा करने में भारत के सहयोग पर भी जोर दिया। उन्होंने कहा कि फ्रांस और भारत की दोस्ती लिबर्टी (स्वतंत्रता), इक्वैलिटी (समानता) और फ्रेटरनिटी (बंधुत्व) के ठोस आदर्शों पर टिकी है। हमने कंधे से कंधा मिलाकर काम किया है। आज आतंकवाद, पर्यावरण, क्लाइमेट चेंज और तकनीक में समावेशी विकास की चुनौतियों का सामना करने के लिए भारत और फ्रांस मजबूती से साथ खड़े हैं।”

‘मैरीटाइम और साइबर सिक्योरिटी में सहयोग बढ़ेगा’

“इंटरनेशनल सोलर अलायंस भारत और फ्रांस की पहल है। आज फ्रांस और भारत एक दूसरे के भरोसेमंद पार्टनर हैं। अपनी कठिनाइयों में हमने एक दूसरे का नजरिया समझा है और साथ भी दिया है। मैरीटाइम और साइबर सिक्योरिटी में भी हमने सहयोग बढ़ाने का फैसला किया है। हिंद महासागर में सुरक्षा और सभी के लिए प्रगति सुनिश्चित करने के लिए यह उपयोगी होगा।”

भारत को 5 ट्रिलियन डॉलर इकोनॉमी बनाने पर हुई चर्चा
मोदी ने कहा, “2022 में भारत की आजादी के 75 साल पूरे होंगे तब तक हमने न्यू इंडिया के कई लक्ष्य रखे हैं। हमारा एक लक्ष्य है भारत की 5 ट्रिलियन डॉलर की इकोनॉमी बनाना। अपने आर्थिक सहयोग को बढ़ाने के लिए हम स्किल डेवलपमेंट, आईटी और स्पेस में नए इनीशिएटिव के लिए तत्पर हैं। फ्रांस पहला देश है जिसके साथ हमने न्यू जेनरेशन सिविल एग्रीमेंट साइन किया है। हमने कंपनियों से आग्रह किया है कि वे जैतापुर न्यूक्लियर प्रोजेक्ट पर आगे बढ़ें।”


फ्रांस में 2021-22 में नमस्ते फ्रांस का आयोजन
पीएम नेकहा, “2021-22 में पूरे फ्रांस में भारतीय सांस्कृति फेस्टिवल नमस्ते फ्रांस का आयोजन होगा। मैं जानता हूं कि योग फ्रांस में लोकप्रिय है। मुझे आशा है कि फ्रांस के मेरे दोस्त इसे स्वस्थ जीवनशैली के लिए अपनाएंगे।”

मैक्रों ने कहा- कश्मीर पर किसी तीसरे पक्ष के हस्तक्षेप की जरूरत नहीं

फ्रांस ने कश्मीर मामले पर भारत का साथ दिया है। मोदी के साथ साझा बयान में फ्रांस के राष्ट्रपति मैक्रों ने जम्मू-कश्मीर का जिक्र करते हुए कहा कि इस मामले का हलभारत और पाकिस्तान को ही द्विपक्षीय तरीके से खोजना होगा। किसी तीसरे पक्ष को इसमें हस्तक्षेप करने की कोशिश नहीं करनी चाहिए और न ही क्षेत्र में हिंसा फैलाने की कोशिश हो। मैक्रों ने कहा कि कश्मीर में शांति के साथ लोगों के अधिकारों की रक्षा होनी चाहिए।

पेरिस एयरपोर्ट पर हुआ रेड कारपेट स्वागत

मोदी गुरुवार को ही जी-7 समिट में हिस्सा लेने चार्ल्स डी गॉल एयरपोर्ट पहुंचे। यहांफ्रांस के विदेश मंत्री ज्यां-वेस ले ड्रियन ने उनका रेड कारपेटपर स्वागत किया। भारतीय समुदाय भी बड़ी संख्या में मोदी को देखने के लिए एयरपोर्ट पहुंचा। इस दौरान प्रधानमंत्री ने ट्वीट में कहा कि भारत और फ्रांस सालों से द्विपक्षीय और बहुपक्षीय तरीके से काम कर रहे हैं। इस दौरे सेफ्रांस की लीडरशिप के साथ पिछली वार्ता के दायरे बढ़ेंगे।फ्रांस केराष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रोंके निमंत्रण पर मोदी बियारेट्ज शहर में 24-26 अगस्त कोहोने वाले 45वें जी-7 समिट में साझेदार के तौर पर शामिल होंगे।

फ्रांस में भारतीय समुदाय को संबोधित करेंगे

जी-7 सम्मेलन के दौरान प्रधानमंत्री के पर्यावरण, जलवायु परिवर्तन, समुद्री सहयोग और डिजिटल परिवर्तन जैसे मुद्दों पर विचार रख सकते हैं। जी-7 शिखर सम्मेलन के अलावा मोदी अन्य देशों के नेताओं के साथ द्विपक्षीय मुलाकात भी करेंगे।प्रधानमंत्री पेरिस में भारतीय समुदाय को संबोधित भी करेंगे। इसके अलावा वह निड डी एगल में एयर इंडिया के विमान दुर्घटना में मारे गए भारतीय लोगों की याद में एक स्मारक का भी उद्घाटन करेंगे।

भारत और फ्रांस 1998 से रणनीतिक साझेदार

भारत और फ्रांस 1998 से रणनीतिक साझेदार हैं और दोनों देशों के बीच व्यापक और बहुआयामी संबंध हैं। इसके अलावा दोनों देशों के बीच रक्षा, समुद्री सुरक्षा, अंतरिक्ष, साइबर, आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई और असैन्य परमाणु ऊर्जा के क्षेत्र में मजबूत सहयोग है।विदेश मंत्रालय ने एक वक्तव्य जारी कर कहा कि मोदी की फ्रांस की द्विपक्षीय यात्रा और जी-7 शिखर सम्मेलन का निमंत्रण भारत और फ्रांस के बीच मजबूत एवं करीबी साझेदारी तथा उच्चस्तरीय राजनीतिक संपर्कों की परंपरा को ध्यान में रखते हुए है।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
शैटो डी शान्तियी में संयुक्त बयान के दौरान प्रधानमंत्री मोदी और राष्ट्रपति मैक्रों।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों।
मोदी को फ्रांस की प्राचीन धरोहर शैटो डी शान्तियी की सैर कराते मैक्रों।
मैक्रों ने मोदी का गले लगाकर स्वागत किया।
शैटो डी शान्तियी की जानकारी देते मैक्रों।
द्विपक्षीय वार्ता के दौरान मोदी और मैक्रों।
चार्ल्स डी गॉल एयरपोर्ट पर भारतीय समुदाय ने मोदी का स्वागत किया।
Prime Minister Narendra Modi meets France President Emmanuel Macron news and updates
फ्रांस के विदेश मंत्री ने मोदी का रेड कारपेट पर वेलकम किया।
Prime Minister Narendra Modi meets France President Emmanuel Macron news and updates

Click here to Read full Details Sources @ https://www.bhaskar.com/international/news/prime-minister-narendra-modi-meets-france-president-emmanuel-macron-news-and-updates-01623797.html

जन्माष्टमी पर बेंगलुरु में कान्हा के लिए 20 लाख की ज्वेलरी, 3 लाख के वस्त्र; 36 घंटे चलेगा जन्मोत्सव


नितिन आर. उपाध्याय.श्रीकृष्ण जन्माष्टमी 23 और 24 अगस्त को मनाई जाएगी। पंचांग भेद के कारण इस बार दो दिन जन्माष्टमी का योग बन रहा है। 23 को अष्टमी तिथि है, लेकिन रोहिणी नक्षत्र नहीं है। 24 को सुबह उदय तिथि अष्टमी रहेगी, साथ ही रोहिणी नक्षत्र भी। अंतरराष्ट्रीय श्रीकृष्ण भावनामृत संघ (इस्कॉन) में 23 (तड़के 4 बजे) से श्रीकृष्ण जन्मोत्वस शुरू होगा जो 24 अगस्तकी रात 1 बजे तक लगातार चलेगा। मूल उत्सव 24 को ही मनाया जाएगा। इस तरह करीब 36 से 38 घंटे तक श्रीकृष्ण जन्मोत्सव की धूम रहेगी।

ज्वेलरी में कर्णफूल और कंठहार
इस्कॉन बेंगलुरु में भव्य पैमाने पर इस उत्सव की तैयारी की जा रही है। कृष्ण जन्माष्टमी उत्सव के लिए करीब 20 लाख की ज्वेलरी तैयार कराई गई है, इसमें सोने-चांदी के आभूषणों को अमेरिकन डायमंड के साथ तैयार किया गया है। इनमें मत्स्य डिजाइन के कर्णफूल, बटरफ्लाय डिजाइन का बड़ा कंठहार शामिल है। सारी ज्वेलरी तमिलनाडु के कुंभकोणम से मंगवाई गई है, जो मेटल कारीगरी के लिए प्रसिद्ध है।

मुस्लिम कारीगर भगवान के लिए वस्त्र बनाता है
भगवान के लिए करीब 3 लाख रुपए की लागत से पूरे उत्सव के दौरान पहनी जाने वाली ड्रेसतैयार की गई हैं। इन्हें कांचीपुरम सिल्क में बनवाया गया है। राधा-कृष्ण के लिए पिछले 20 सालों से बेंगलुरु का एक मुस्लिम कारीगर भगवान के लिए कपड़े बना रहा है। रियाज पाशा नाम के इस कारीगर का मुख्य काम भगवान के लिए अलग-अलग तरह की ड्रेसेज बनाना, इन पर एम्ब्रायडरी करना है। भगवान की ड्रेसेज और ज्वेलरी इस्कॉन बेंगलुरु की ही भक्तिलता देवी दासी और चमेरी देवी दासी डिजाइन करती हैं।

600 वालिंटियर्स सेवाएं देंगे
इस्कॉन बेंगलुरु के वाइस प्रेसिडेंट स्वामी वासुदेव केशव दासजी के मुताबिक, दो दिन तक उत्सव का उल्लास रहेगा। करीब 600 वालिंटियर्स सेवाएं देंगे। मुख्य मंदिर परिसर में भगवान का अभिषेक होगा। इसके लिए व्यापक पैमाने पर तैयारी की गई है। इसके अलावा बेंगलुरु में 10 अलग-अलग स्थानों पर एक साथ जन्माष्टमी उत्सव का आयोजन होगा, ताकि लोगों को दूर तक मुख्य मंदिर में आने की तकलीफ ना उठानी पड़े। 24 को सुबह रोहिणी नक्षत्र लगेगा और उदय तिथि भी अष्टमी होगी। इस कारण मुख्य उत्सव और श्रीकृष्ण जन्म 24 को ही मनाया जाएगा।


पंचरात्र आगमा विधि से जन्मोत्सव मनेगा
स्ट्रेटेजिक कम्यूनिकेशन और प्रोजेक्ट हेड स्वामी नवीन नीरद दास के मुताबिक, जन्मोत्सव की पूरी प्रक्रिया पुराणों में बताई गई पंचरात्र आगमा विधि के अनुसार ही होगी। उसी के अनुसार संपूर्ण सामग्रियों और विधि के साथ मंगला आरती से लेकर रात्रि अभिषेक तक सारी विधियां पूरी की जाएंगी।

दो दिन में आरतियां
सुबह मंगला आरती से लेकर पूरे दो दिन में होने वाली 12 आरतियों में नाग, शंख, चक्र, गरूड़, घंटाल, मंडल, हनुमान, रथ, हंस, गज, मत्स्य और कुर्म की डिजाइन वाली दीपमालाओं का उपयोग किया जाएगा, जो विशेष रूप से जन्माष्टमी उत्सव के लिए तैयार की गई हैं।


108 नदियों का जल
मुख्य अभिषेक में पंचामृत के साथ सुगंधित तेल उपयोग किए जाएंगे। इसके अलावा देशभर की 108 नदियों का जल, 108 तरह की औषधियों से तैयार जल, 15 तरह के फलों का रस, 35 तरह के फूलों की पत्तियों से अभिषेक किया जाएगा। राधा-कृष्ण की प्रतिमाओं को चांदी के झूले में रखा जाएगा, जिनकी सेवा आम श्रद्धालु भी कर सकेंगे।


108 तरह के व्यंजनों का भोग

  • अभिषेक 24 की रात 10 बजे के लगभग शुरू होगा जो रात 12 बजे समाप्त होगा। जन्मोत्सव रात 1 बजे तक निरंतर चलेगा।
  • भगवान को 108 तरह के व्यंजनों का भोग लगाया जाएगा, जो मंदिर के ही 4 अलग-अलग किचन में तैयार होंगे।
  • 1 लाख लड्डुओं और 1 लाख दोने खिचड़े का प्रसाद मंदिर में आने वाले श्रद्धालुओं को बांटा जाएगा।
  • पूरे मंदिर को अलग-अलग तरह के फूलों से सजाया जाएगा।
  • मंदिर में जन्मोत्सव के दौरान करीब एक लाख श्रद्धालु दर्शन करने आने का अनुमान है।

DBApp



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
Janmashtami 2019 Iskcon Krishna Mandir Temple Bangalore; Kanha Will Wear Jewellery, Dress of Rs 20 Lakh - Sri Krishna Ja
Janmashtami 2019 Iskcon Krishna Mandir Temple Bangalore; Kanha Will Wear Jewellery, Dress of Rs 20 Lakh - Sri Krishna Ja
Janmashtami 2019 Iskcon Krishna Mandir Temple Bangalore; Kanha Will Wear Jewellery, Dress of Rs 20 Lakh - Sri Krishna Ja
Janmashtami 2019 Iskcon Krishna Mandir Temple Bangalore; Kanha Will Wear Jewellery, Dress of Rs 20 Lakh - Sri Krishna Ja
Janmashtami 2019 Iskcon Krishna Mandir Temple Bangalore; Kanha Will Wear Jewellery, Dress of Rs 20 Lakh - Sri Krishna Ja

Click here to Read full Details Sources @ https://www.bhaskar.com/dboriginal/news/janmashtami-2019-iskcon-krishna-mandir-temple-bangalore-kanha-jewellery-dress-price-01623617.html

पाक प्रधानमंत्री इमरान ने कहा- अब भारत से बातचीत के लिए कुछ नहीं बचा, युद्ध का खतरा बढ़ता जा रहा


इस्लामाबाद (सलमान मसूद/मारिया अबी हबीब).पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने बुधवार को कश्मीर के मुद्दे पर भारत की जमकर आलोचना की। जम्मू-कश्मीर सेअनुच्छेद 370 हटने के बाद हर मंच पर नाकाम रहने के बाद दुनियाभर से पाकिस्तान पर बन रहे दबाव के बीच इमरान ने इस्लामाबाद स्थित अपने ऑफिस में न्यूयाॅर्क टाइम्स काे इंटरव्यू दिया। उन्होंनेकहा, ''अब मैं भारत से कोई चर्चा नहीं करूंगा, क्योंकि बातचीत के लिए कुछ बचा ही नहीं है।''

इमरान ने कहा, ''बातचीत के लिए मैं हर मुमकिन कोशिश कर चुका हूं। अब जब मैं पीछे मुड़कर देखता हूं, तो लगता है कि जब मैं वार्ता और शांति की कोशिश कर रहा था, तो भारत ने इसे तुष्टिकरण की कोशिश के तौर पर लिया। अब बातचीत का सवाल ही नहीं उठता है।''

  • कश्मीर में खराब हालात होने का दावा करते हुए इमरान ने कहा कि भारत सरकार कश्मीर में एक पूरे समुदाय को खत्म करने पर आमदा है। कश्मीर को पूरी तरह से बाकी दुनिया से अलग-थलग कर दिया गया है। कश्मीर में रहने वाले करीब 80 लाख लोगों का जीवन खतरे में है। हालत यह है कि यहां लोगों को अंतिम संस्कार में भी शामिल नहीं होने दिया जा रहा है। चाहता हूं कि दोनों मुल्कों में अमन बहाली हो। लेकिन, मेरी कोशिशों का इस्तेमाल भारत ने कुछ लोगों को खुश करने में किया।
  • लिहाजा, दोनों परमाणु हथियार संपन्न देशों में युद्ध का खतरा बढ़ता जा रहा है। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को फासीवादी और हिंदूवादी करार देते हुए आरोप लगाया कि वह कश्मीर की मुस्लिम बहुल आबादी का सफाया कर उसे हिंदू बहुल इलाके में तब्दील कर देना चाहते हैं। मेरी चिंता यही है कि कश्मीर के हालात से तनाव बढ़ सकता है। दोनों देश परमाणु शक्ति संपन्न है इसलिए दुनिया को इस पर ध्यान देना चाहिए कि हम किन हालात का सामना कर रहे हैं।

भारत-पाक के बीच जंग का खतरा बढ़ता जा रहा

इमरान खान ने कहा कि भारत कश्मीर में नरसंहार जैसा कुछ कर सकता है। यहां एक पूरी नस्ल को बर्बाद करने की साजिश रची जा रही है। ऐसे में भारत अपने एक्शन को सही ठहराने के लिए यहां कोई ऑपरेशन चला सकता है। ऐसे हालात में दोनों देशों के बीच जंग का खतरा बढ़ता जा रहा है।

आतंक के खिलाफ पाकिस्तान ठोस कार्रवाई करे: श्रृंगला
इमरान की आलोचना को अमेरिका में भारतीय राजदूत हर्षवर्धन श्रृंगला ने पूरी तरह खारिज कर दिया है। उन्होंने कहा, ‘हमारा अनुभव रहा है कि जब-जब हमने शांति की तरफ कदम आगे बढ़ाया, हमारे लिए बुरा साबित हुआ। हम पाकिस्तान से आतंकवाद के खिलाफ ठोस कार्रवाई की उम्मीद करते हैं।’

(द न्यूयॉर्क टाइम्स सेदैनिक भास्कर से विशेष अनुबंध के तहत)



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
इमरान खान। -फाइल

Click here to Read full Details Sources @ https://www.bhaskar.com/national/news/imran-khan-said-now-there-is-nothing-left-to-talk-to-india-01623863.html

मुरली से सुदर्शन तक; श्रीकृष्ण के साथ हमेशा रहे 6 उपहार


भोपाल. वासुदेव श्रीकृष्ण को पिता, सखी और गुरु से मिले उपहार उनके व्यक्तित्व से जुड़ते गए। 13 की उम्र तक उन्हें ऐसी 6 चीजें मिल चुकी थीं। इनमें से कुछ मामूली थीं, पर कृष्ण ने इन्हें अंत तक अपने पास रखा।

  1. बांसुरी : नंदबाबा ने गोकुल में कृष्ण को बांसुरी दी। तब कृष्ण तीन-चार साल के थे। यह उनका सबसे प्यारा खिलौना बन गया। यही बांसुरी कृष्ण की जीवनभर की संगनी बनी।
  2. वैजयंती माला : कृष्ण ने जब पहली बार रासलीला खेली थी, तब राधा ने उन्हें वैजयंती माला पहनाई थी। उम्र आठ-दस साल थी। वैजयंती माला यानी -'विजय दिलाने वाली माला।
  3. मोरपंख : कृष्ण आठ-दस साल के थे तो रासलीला के लिए वृंदावन गए। यहीं पहली बार राधा ने मुकुट पर मोरपंख लगाया था। कृष्ण ने स्त्री के इस सृजन को हमेशा के लिए मस्तक पर जगह दी।
  4. अजितंजय धनुष, पांचजन्य शंख तब कृष्ण 11-12 साल के थे। उज्जैन में गुरु सांदीपनि के आश्रम में पढ़ रहे थे। गुरु पुत्र दत्त का शंखासुर ने अपहरण कर लिया। कृष्ण उसे बचाकर लाए तो गुरु ने उन्हें अजितंजय धनुष भेंट किया। शंखासुर वध से कृष्ण को शंख मिला, जिसे सांदीपनि ने पांचजन्य नाम दिया।
  5. सुदर्शन चक्र : कृष्ण 12-13 साल थे, तब परशुराम से मिलने उनकी जन्मस्थली जानापाव (इंदौर) गए थे। वहां परशुराम ने कृष्ण को उपहार में सुदर्शन चक्र दिया। शिव ने यह चक्र त्रिपुरासुर वध के लिए बनाया था और विष्णु को दे दिया था। कृष्ण के पास आने के बाद यह उनके पास ही रहा।

स्रोत: युगंधर (शिवाजी सावंत), श्री कृष्ण लीला (वनमाली)

DBApp



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
All the 6 things were very ordinary that Krishna had received but krishna made him extraordinary by keeping him together

Click here to Read full Details Sources @ https://www.bhaskar.com/national/news/krishna-janmashtami-murali-to-sudarshan-always-6-gifts-01623895.html

वेनिस का पुल पर्यटकों के अनुकूल नहीं पाया गया, स्पेन के आर्किटेक्ट पर 61 लाख रुपए जुर्माना


वेनिस. पिछले कुछ सालों से वेनिस लगातार बढ़ रहे पर्यटकों पर लगाम लगाने में जुटा है। लेकिन अब इटली के इस प्रसिद्ध शहर ने कॉन्स्टिट्यूशन नहर पर पुल बनाने वाले आर्किटेक्ट पर कार्रवाई की है। पर्यटकों के अनुकूल ब्रिज न होने के कारण स्पेनिश आर्किटेक्ट सैंटियागो कैलात्रावा पर 86,000 डॉलर (करीब 61 लाख रु.) का जुर्माना लगाया है। वेनिस प्रशासन का कहना है कि यह ब्रिज पर्यटकों को नहीं संभाल पा रहा।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
कॉन्स्टिट्यूशन ब्रिज, वेनिस (इटली)।

Click here to Read full Details Sources @ https://www.bhaskar.com/international/news/venice-fines-spain-architects-engineers-santiago-calatrava-over-bridge-design-01623435.html

कोर्ट ने चिदंबरम को 26 अगस्त तक सीबीआई की रिमांड पर भेजा; कहा- आरोप गंभीर, गहन जांच जरूरी


नई दिल्ली. विशेष अदालत ने गुरुवार को आईएनएक्स मीडिया मामले में पूर्व वित्तमंत्री पी चिदंबरम को 26 अगस्त तक सीबीआई की रिमांड पर भेजने का फैसला सुनाया। जस्टिस अजय कुमार कुहार ने कहा कि चिदंबरम के खिलाफ लगे आरोप गंभीर हैं, इनकी गहराई से जांच जरूरी है। सीबीआई के वकील सॉलिसीटर जनरल तुषार मेहता ने कहा था कि चिदंबरम ने जांच में सहयोग नहीं किया। पूछताछ के लिए उन्हें 5 दिन की सीबीआई रिमांड पर भेजा जाए। इसका विरोध करते हुए चिदंबरम के वकील ने कहा कि सीबीआई के हिसाब से जवाब न देने को असहयोग नहीं कहा जाएगा। कपिल सिब्बल ने दलील दी थी कि जब सीबीआई के पास सवाल तक तैयार नहीं हैं तो फिर रिमांड क्यों चाहिए?


जस्टिस अजय कुमार कुहार ने कहा- तथ्यों और हालात के मद्देनजर चिदंबरम को कस्टडी में भेजा जाना न्यायपूर्ण है। रिमांड के दौरान चिदंबरम के वकील और परिजनों को रोजाना 30 मिनट मिलने का समय दिया जाएगा। चिदंबरम को बुधवार रात 10.25 बजे सीबीआई ने गिरफ्तार कर लिया था। रातभर वे सीबीआई के गेस्ट हाउस में ग्राउंड फ्लोर पर सुइट नंबर-5 में रहे।


सीबीआई की दलीलें

  • तुषार मेहता ने कहा- चुप रहने का अधिकार संवैधानिक है। हमें इससे कोई परेशानी नहीं है। लेकिन, चिदंबरम ने जांच में सहयोग नहीं किया। वह सवालों के जवाब से बचते रहे।
  • मेहता ने कहा- यह मनी लॉन्ड्रिंग का एक क्लासिक मामला है। हम अभी प्री चार्जशीट स्टेज पर हैं। उनके पास जो जानकारियां हैं, उन्हें देने में उन्होंने सहयोग नहीं किया।
  • उन्होंने कहा कि सीबीआई के आवेदन पर पूर्व वित्त मंत्री के खिलाफ गैर-जमानती वारंट जारी किया गया था और इसी आधार पर गिरफ्तारी की कार्रवाई की गई।
  • सीबीआई ने कहा- हम जबर्दस्ती इकबालिया बयान नहीं ले रहे, लेकिन मामले की जड़ तक जाएंगे।
  • तुषार मेहता ने कहा- आईएनएक्स मीडिया घोटाले की साजिश में चिदंबरम दूसरों के साथ शामिल थे। उनको कस्टडी में लेकर पूछताछ किया जाना जरूरी है ताकि बड़ी साजिश का पर्दाफाश किया जा सके।
  • उन्होंने कहा- आईएनएक्स मीडिया से जुड़े दस्तावेजों के आधार पर चिदंबरम से पूछताछ की जाएगी। जांच सही ढंग से हो सके, इसके लिए कुछ निश्चित सवालों के जवाब जानना जरूरी है। बड़े अपराध को अंजाम दिया गया है।

चिदंबरम की तरफ से दलीलें

  • कपिल सिब्बल ने कहा- इस मामले में आरोपी कार्ति चिदंबरम हैं। जिन्हें मार्च 2018 में दिल्ली हाईकोर्ट ने रेगुलर बेल दी थी। दूसरे आरोपियों को भी जमानत दी गई।
  • सिब्बल ने दलील दी- चार्ज शीट का ड्राफ्ट तैयार हो गया है, जांच पूरी हो गई है। फॉरेन इन्वेस्टमेंट प्रमोशन बोर्ड (एफआईपीबी) की मंजूरी 6 सचिवों द्वारा दी जाती है। किसी को भी गिरफ्तार नहीं किया गया। यह कागजी दस्तावेजों का मामला है। चिदंबरम कभी भी जांच से नहीं भागे।
  • उन्होंने कहा- पिछली रात सीबीआई ने कहा कि वो चिदंबरम से पूछताछ करना चाहती है। आज दोपहर 12 बजे तक यह पूछताछ शुरू नहीं हुई थी। सीबीआई ने केवल 12 सवाल पूछे। अब तक उन्हें यह मालूम होना चाहिए था कि क्या सवाल पूछने हैं। इन सवालों का चिदंबरम से कोई लेना-देना नहीं।
  • "यह एक ऐसा मामला है, जिसका सबूतों से कोई लेना-देना नहीं है, बल्कि इसका किसी और चीज से ही ताल्लुक है। अगर कोई जज फैसला देने में सात महीने में लगा दे तो क्या आप इसे चिदंबरम को मिला संरक्षण कहेंगे? हम इससे असंतुष्ट हैं।"
  • अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा- सीबीआई का पूरा केस इंद्राणी मुखर्जी के बयान और एक केस डायरी पर आधारित है।
  • सिंघवी ने कहा- अगर जांच एजेंसी मुझे 5 बार फोन करती और मैं नहीं जाता, तब इसे जांच में असहयोग किया जाता। जो जवाब वो सुनना चाहते हैं, उसे नहीं देना असहयोग नहीं है। उन्होंने केवल एक बार चिदंबरम को फोन किया और वे गए। यहां जांच में असहयोग कहां हैं?
  • सिंघवी ने कहा- कस्टडी में पूछताछ का हम विरोध करते हैं। सीबीआई ने सबूतों से छेड़छाड़ का कोई आरोप नहीं लगाया। चिदंबरम के भागने का खतरा नहीं है। गोलमोल जवाबों के आधार पर सीबीआई रिमांड कैसे मांग सकती है। यह कानून नहीं है।

कोर्ट ने चिदंबरम को अपनी बात रखने का मौका दिया

सुनवाई के दौरान चिदंबरम ने अपनी बात रखने की कोशिश की, लेकिन तुषार मेहता ने इसका यह कहकर विरोध कर दिया कि उनकी ओर से पैरवी करने के लिए दो वरिष्ठ वकील कोर्ट में मौजूद हैं। हालांकि, पूर्व वित्त मंत्री को अपनी बात कहने का मौका दिया गया। चिदंबरम ने कहा- आप सवालों और जवाबों को देख लीजिए। कोई भी ऐसा सवाल नहीं है, जिसका मैंने जवाब न दिया हो। उन्होंने पूछा कि क्या मेरे विदेश में खाते हैं, मैंने कहा नहीं। उन्होंने पूछा कि मेरे बेटे का विदेश में खाता है, तो मैंने कहा हां।

सीबीआई को हत्या की आरोपी इंद्राणी पर भरोसा, चिदंबरम पर नहीं- कांग्रेस
सीबीआई और ईडी की कार्रवाई पर पार्टी प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा कि भाजपा सरकार ने इन एजेंसियों को बदले की कार्रवाई करने वाले विभाग में बदल दिया। उन्होंने आरोप लगाया कि सीबीआई ने इस मामले में इंद्राणी मुखर्जी के बयानों पर भरोसा कर लिया, जिस पर अपनी ही बेटी की हत्या के आरोप हैं, लेकिन चिदंबरम पर नहीं।

कार्ति ने कहा- मैं इंद्राणी मुखर्जी से कभी नहीं मिला

चिदंबरम की पेशी से पहले उनकी पत्नी नलिनी और बेटे कार्ति चिदंबरम भी विशेष अदालत पहुंचे। कार्ति चिदंबरम ने कहा कि उनके पिता के खिलाफ कार्रवाई राजनीतिक बदले की भावना से की जा रही है। उन्होंने यह भी कहा कि आईएनएक्स मीडिया के प्रमोटर्स पीटर मुखर्जी और इंद्राणी मुखर्जी से उनकी कभी मुलाकात नहीं हुई। यह केवल मेरे पिता के खिलाफ नहीं, बल्कि कांग्रेस पार्टी के खिलाफ कार्रवाई है। मैं इसके खिलाफ जंतर-मंतर पर प्रदर्शन करूंगा।

चिदंबरम ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा था-मेरे खिलाफ कोई आरोप नहीं
बुधवार कोकांग्रेस मुख्यालय में प्रेस कॉन्फ्रेंस में चिदंबरम ने कहा कि आईएनएक्स मामले में उनके खिलाफ कोई आरोप नहीं है, सीबीआई और ईडी ने उनके खिलाफ कोई चार्जशीट भी दाखिल नहीं की। इसके बाद चिदंबरम कांग्रेस मुख्यालय से रवाना हो गए। सीबीआई, ईडी और दिल्ली पुलिस की टीम जोरबाग स्थित घर पर पहुंची। सीबीआई की टीम दीवार फांदकर घर में दाखिल हुई और चिदंबरम को हिरासत में लिया।

chi

12 दिग्गज वकील सुप्रीम कोर्ट में दिनभर घूमकर भी नहीं बचा पाए
चिदंबरम की ओर से 12 वकील सुप्रीम कोर्ट पहुंचे। जस्टिस एनवी रमना से चिदंबरम की गिरफ्तारी पर रोक की मांग की। बेंच ने सुनवाई से इनकार कर दिया। वकील रजिस्ट्रार के पास गए और याचिका चीफ जस्टिस के पास भेजने को कहा। रजिस्ट्री ने याचिका में खामियां बता दीं। दोपहर 2 बजे जस्टिस रमना ने कहा कि लिस्टिंग चीफ जस्टिस करेंगे। लिस्टिंग से पहले सुनवाई नहीं होगी। 3.40 बजे वकील चीफ जस्टिस की कोर्ट पहुंचे। 20 मिनट अयोध्या केस की सुनवाई खत्म होने का इंतजार किया।

सुप्रीम कोर्ट में अंतरिम जमानत याचिका पर सुनवाई शुक्रवार को
सुप्रीम कोर्ट आईएनएक्स मीडिया मामले में पी चिदंबरम की अंतरिम जमानत याचिका पर कल सुनवाई करेगी। जस्टिस आर भानुमति और जस्टिस एएस बोपन्ना की पीठ इस पर सुनवाई करेगी। इससे पहले, बुधवार को कोर्ट ने तत्काल सुनवाई करने से इनकार कर दिया था और शुक्रवार की तारीख तय की थी। दिल्ली हाईकोर्ट से जमानत याचिका को रद्द होने के बाद उन्होंने सुप्रीम कोर्ट का रूख किया था।

वित्त मंत्री रहते हुए विदेशी निवेश की मंजूरी दी थी
आरोप है कि चिदंबरम ने वित्त मंत्री रहते हुए रिश्वत लेकर आईएनएक्स को 2007 में 305 करोड़ रु. लेने के लिए विदेशी निवेश संवर्धन बोर्ड से मंजूरी दिलाई थी। जिन कंपनियों काे फायदा हुआ, उन्हें चिदंबरम के सांसद बेटे कार्ति चलाते हैं। सीबीआई ने 15 मई 2017 को केस दर्ज किया था। 2018 में ईडी ने भी मनी लॉन्ड्रिंग का केस दर्ज किया। एयरसेल-मैक्सिस डील में भी चिदंबरम आरोपी हैं। इसमें सीबीआई ने 2017 में एफआईआर दर्ज की थी।

DBApp



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
सीबीआई मुख्यालय से सीबीआई की विशेष अदालत जाते वक्त पी चिदंबरम।
P Chidambaram, Chidambaram INX Media Case Live; P Chidambaram CBI Special Court Hearing News Update
P Chidambaram, Chidambaram INX Media Case Live; P Chidambaram CBI Special Court Hearing News Update

Click here to Read full Details Sources @ https://www.bhaskar.com/national/news/chidambaram-arrested-court-hearing-inx-media-case-modi-govt-congress-news-updates-01623073.html

एफआईआर में चिदंबरम आरोपी नहीं, लेकिन इंद्राणी मुखर्जी के एक बयान की वजह से फंसे


नई दिल्ली. शीना बोरा हत्याकांड में जेल में बंद इंद्राणी मुखर्जी के एक बयान और 2007 में यूपीए सरकार के समय आईएनक्स मीडिया को मिली विदेशी निवेश की मंजूरी पी. चिदंबरम पर भारी पड़ी। इन्हीं वजहों के चलते सीबीआई और फिर प्रवर्तन निदेशालय ने पूर्व वित्त और गृह मंत्री पी. चिदंबरम पर शिंकजा कसा। मामले के 12 साल बाद बुधवार को उनकी गिरफ्तारी हुई। अब उन्हें 26 अगस्त तक सीबीआई की रिमांड में भेज दिया गया है। हालांकि, आईएनक्स मीडिया केस में दर्ज एफआईआर में चिदंबरम आरोपी नहीं हैं। सीबीआई की तरफ से चार्जशीट दायर होना भी बाकी है।

1) इंद्राणी मुखर्जी का इस केस से क्या लेना-देना है?
इंद्राणी और पीटर मुखर्जी ने 2006 में आईएनएक्स मीडिया की स्थापना की थी। एक साल बाद 13 मार्च 2007 को कंपनी ने विदेशी निवेश के प्रस्ताव की अर्जी विदेशी निवेश प्रमोशन बोर्ड (एफआईपीबी) के पास भेजी। उस वक्त यही बोर्ड कंपनियों में प्रत्यक्ष विदेशी निवेश के प्रस्तावों को मंजूरी देता था। आर्थिक मामलों के सचिव इस बोर्ड के अध्यक्ष हुआ करते थे।

2) गड़बड़ी कहां हुई?
न्यूज एजेंसी की रिपोर्ट के मुताबिक, 2007 में आईएनएक्स मीडिया ने 4.62 करोड़ रुपए का प्रत्यक्ष विदेशी निवेश हासिल करने का प्रस्ताव दिया था। इस प्रस्ताव को तत्कालीन वित्त मंत्री पी. चिदंबरम की स्वीकृति के बाद बोर्ड ने मंजूरी दी थी। हालांकि, नियम-शर्तों का उल्लंघन करते हुए कंपनी ने प्रति शेयर 800 रुपए प्रीमियम के हिसाब से 305 करोड़ रुपए का निवेश हासिल किया। इससे संदेह पैदा हुआ और आयकर विभाग ने एफआईपीबी को पत्र भेजकर मामले की जांच करने की मांग की। इस पर बोर्ड ने आईएनएक्स मीडिया से स्पष्टीकरण देने को कहा।

3) चिदंबरम सवालों के घेरे में कैसे आए?
सीबीआई की एफआईआर के मुताबिक, आईएनएक्स मीडिया ने दंडात्मक कार्रवाई से बचने के लिए तत्कालीन वित्त मंत्री पी. चिदंबरम के बेटे कार्ति से संपर्क किया। कार्ति तब चेस मैनेजमेंट कंपनी के प्रमोटर थे। आईएनएक्स मीडिया का मकसद यह था कि एफआईपीबी के नौकरशाहों को अपने प्रभाव में लिया जाए और मामला रफा-दफा किया जाए। बोर्ड के अफसरों ने आईएनएक्स मीडिया को नई अर्जी दाखिल करने की सलाह दी और जांच करने के आयकर विभाग के अनुरोध को नजरअंदाज कर दिया गया। वित्त मंत्रालय ने नई अर्जी को मंजूरी भी दे दी। इसके लिए आईएनएक्स मीडिया ने कंसल्टेंसी चार्ज के तौर पर एडवांटेज स्ट्रैटजिक कंपनी को 10 लाख रुपए की फीस दी। सीबीआई का कहना है कि एडवांटेज स्ट्रैटजिक कंपनी पर कार्ति चिदंबरम का नियंत्रण है। कार्ति और चिदंबरम इस दावे को खारिज करते हैं।

4) ईडी कैसे इस मामले तक पहुंची?
2जी स्पेक्ट्रम आवंटन केस से जुड़े एयरसेल-मैक्सिस केस की जांच प्रवर्तन निदेशालय को आईएनएक्स मीडिया केस तक ले गई। दरअसल, ईडी 2016 में एयरसेल-मैक्सिस केस में एडवांटेज स्ट्रैटजिक कंपनी की भूमिका की जांच कर रही थी। कार्ति चिदंबरम पर इस कंपनी के जुड़े होने का आरोप है। ईडी की जांच में पता चला कि एडवांटेज स्ट्रैटजिक ने विदेशी निवेश की मंजूरी हासिल करने वाली कुछ और कंपनियों से कंसल्टेंसी चार्ज हासिल किया था।

5) जांच में इंद्राणी की स्थिति क्या है और उसके किस वजह बयान की वजह से चिदंबरम फंसे?
अपनी बेटी शीना बोरा की हत्या के मामल में जेल में बंद इंद्राणी मुखर्जी आईएनएक्स मामले में सरकारी गवाह बन चुकी है।

6) इंद्राणी के किस बयान की वजह से चिदंबरम फंसे?
अपनी बेटी शीना बोरा की हत्या के मामले में जेल में बंद आईएनएक्स मीडिया की पूर्व सीईओ इंद्राणी मुखर्जी इस मामले में सरकारी गवाह बन चुकी है। इंद्राणी ने ईडी के सामने 2017 में दिए बयान में कहा कि वह और पति पीटर मुखर्जी पी. चिदंबरम से दिल्ली के नॉर्थ ब्लॉक में 2008 में मिले थे। चिदंबरम ने उनकी कंपनी को विदेशी निवेशी की मंजूरी दिलाने के ऐवज में बेटे कार्ति के बिजनेस में मदद करने को कहा था। इसके बाद वह कार्ति से 2008 में दिल्ली के एक फाइव स्टार होटल में मिली। तब कार्ति ने उससे कहा कि वह उससे या उसके सहयोगियों से जुड़े विदेशी खातों में 10 लाख डॉलर की रकम ट्रांसफर करे। तब पीटर ने इंद्राणी से कहा कि कथित अनियमितताओं का मामला कार्ति की मदद कर हल किया जा सकता है। इसके बाद हमने विदेशी निवेश की मंजूरी के मामले में कार्ति से सलाह ली। कार्ति को इस मामले के बारे में पहले से पता था। जब पीटर ने कहा कि विदेशी खातों में 10 लाख डॉलर की रकम ट्रांसफर नहीं की जा सकती, तब कार्ति ने दो कंपनियों चेस मैनेजमेंट और एडवांटेज स्ट्रैटजिक के नाम सुझाए जिन्हें पेमेंट किया जा सकता था। कार्ति ने कहा कि इन दोनों कंपनियों को आईएनक्स मीडिया का कंसल्टेंट पार्टनर बना दिया जाएगा। इसके बाद चेक से 9.96 लाख रुपए का भुगतान एडवांटेज स्ट्रैटजिक कंपनी को किया गया। पीटर ने भी ईडी में दर्ज कराए बयान में कहा कि चिदंबरम ने उनसे बेटे कार्ति के कारोबारी हितों का ध्यान रखने को कहा था।

7) जांच में अभी चिदंबरम की स्थिति क्या है?
चिदंबरम इस मामले में दर्ज एफआईआर में आरोपी नहीं हैं। सीबीआई ने कोई चार्जशीट भी दायर नहीं की है। सीबीआई ने उन्हें पूछताछ के लिए गिरफ्तार किया है। वह उनसे 100 से भी ज्यादा सवाल करेगी। एक्सपर्ट्स का कहना है कि यह भी जरूरी नहीं है कि जिसे शुरुआती जांच में आरोपी माना जा रहा हो, उसका नाम एफआईआर में होना जरूरी है। न्यूज एजेंसी के मुताबिक, एडवोकेट अजीत सिन्हा बताते हैं कि एफआईआर सिर्फ प्रक्रिया आगे बढ़ाने के लिए है। इसके बाद जांच शुरू होती है और बाकी आरोपियों का खुलासा होता है।

DBApp



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
P Chidambaram, P Chidambaram Arrest CBI Special Court Hearing LIVE Updates INX Media Case; P Chidambaram Latest News

Click here to Read full Details Sources @ https://www.bhaskar.com/national/news/chidambaram-arrested-indrani-mukherjee-govt-congress-news-updates-01623743.html

पहले दिन टीम इंडिया का स्कोर 6 पर 203 रन, रहाणे का अर्धशतक; केमार रोच ने 3 विकेट लिए


एंटीगुआ.भारत ने दो टेस्ट की सीरीज के पहले मैच की पहली पारी में वेस्टइंडीज के खिलाफ 6 विकेट पर 203 रन बना लिए हैं। गुरुवार को पहले दिन का खेल खत्म होने तकऋषभ पंत (20) और रविंद्र जडेजा (3) नाबाद हैं।वेस्टइंडीज ने टॉस जीतकर गेंदबाजी का फैसला किया। भारत के लिए अजिंक्य रहाणे ने 81 और लोकेश राहुल ने 44 रन की पारी खेली। हनुमा विहारी ने 32 रन का योगदान दिया। वेस्टइंडीज के लिए केमार रोच ने 3, शेनॉन गेब्रियल ने 2 और रोस्टन चेज ने एक विकेट लिए।

रहाणे ने वेस्टइंडीज के खिलाफ लगातार दूसरा अर्धशतक लगाया। इससे पहले पिछले साल हैदराबाद में उन्होंने 80 रन की पारी खेली थी। भारत के तीन बल्लेबाज 25 रन तक पवेलियन लौट चुके थे। इसके बाद रहाणे ने राहुल के साथ चौथे विकेट के लिए 68 रन की साझेदारी की। राहुल के आउट होने के बाद उन्होंने हनुमा के साथ पांचवें विकेट के लिए 82 रन जोड़े।

13 साल बाद भारत ने विंडीज के खिलाफ 5 ओवर में 2 विकेट खोए

इससे पहले टीम इंडिया की शुरुआत खराब रही। रोच नेमयंक अग्रवाल (5) के बादचेतेश्वर पुजारा (2) को आउट कर टीम को दो शुरुआती झटके दिए। इसके बादगेब्रियल ने कप्तान विराट कोहली को 9 रन के निजी स्कोर पर आउट किया।13 साल बाद ये पहला मौका है, जब भारत ने विंडीज के खिलाफ किसी टेस्ट में 5 ओवर के भीतर दो विकेट गंवा गिए। इससे पहले 2006 में किंग्सटन में हुए टेस्ट में भारत ने दोनों पारियों में 5 ओवर के भीतर ही ओपनर्स के विकेट गंवा दिए थे। तब राहुल द्रविड़ टीम के कप्तान थे।

स्कोरकार्ड : भारत पहली पारी

बल्लेबाज रन गेंद 4s 6s
लोकेश राहुल कै. होप बो. चेज 44 97 5 0
मयंक अग्रवाल कै. होप बो. रोच 5 13 1 0
चेतेश्वर पुजारा कै. होप बो. रोच 2 4 0 0
विराट कोहली कै. ब्रूक्स बो. गेब्रियल 9 12 2 0

अजिंक्य रहाणे बो. गेब्रियल

81 163 10 0
हनुमा विहारी कै. होप बो. रोच 32 56 5 0
ऋषभ पंत नाबाद 20 41 4 0
रविंद्र जडेजा नाबाद 3 28 0 0

रन : 203/6, ओवर : 68.5, एक्स्ट्रा : 7.

विकेट पतन : 5/1, 7/2, 25/3, 93/4, 175/5, 189/6.

गेंदबाजी : केमार रोच: 17-6-34-3, शेनॉन गेब्रियल: 15-3-49-2, जेसन होल्डर: 15-9-27-0, मिगेल कमिंस: 10-0-45-0, रोस्टन चेज: 11.5-1-42-1.

विंडीज के खिलाफ 60 विकेट लेने वाले अश्विन अंतिम एकादश में नहीं
भारत ने इस मैच में रविंद्र जडेजा को इकलौते स्पिनर के तौर पर टीम में शामिल किया। रविचंद्रन अश्विन को मौका नहीं मिला। रोहित शर्मा को भी अंतिम एकादश में शामिल नहीं किया गया। अश्विन ने विंडीज के खिलाफ 11 टेस्ट में 50.18 की औसत से 552 रन बनाए। इस दौरान 4 शतक लगाए। गेंदबाजी में उन्होंने 21.85 की औसत से 60 विकेट लिए। 4 बार पारी में 5 से ज्यादा विकेट लिए।

दोनों टीमें
भारत:विराट कोहली (कप्तान), अजिंक्य रहाणे (उपकप्तान), मयंक अग्रवाल, लोकेश राहुल, चेतेश्वर पुजारा, हनुमा विहारी, ऋषभ पंत, रविंद्र जडेजा, इशांत शर्मा, मोहम्मद शमी, जसप्रीत बुमराह।

वेस्टइंडीज:जेसन होल्डर (कप्तान), क्रेग ब्रैथवेट, जॉन कैम्पबेल,शाई होप (विकेटकीपर),शमर ब्रूक्स,डैरेन ब्रावो, शिमरॉन हेटमायर, रोस्टन चेस, मिगेल कमिंस, शेनॉन गेब्रियल,केमार रोच।

टेस्ट चैम्पियनशिप में विंडीज-भारत का पहला मैच

1अगस्त से शुरू हुई आईसीसी टेस्ट चैम्पियनशिप में दोनों टीमों का यह पहला मैच है। भारतीय टीम वेस्टइंडीज के खिलाफ 17 साल से नहीं हारी है। उसे पिछली हार 2002 में जमैका में मिली थी। तब से दोनों टीमों के बीच 21 मैच खेले गए। इस दौरान भारतीय टीम 12 मैच में जीती। 9 मुकाबले ड्रॉ रहे। भारत ने पिछली सीरीज में वेस्टइंडीज को 2-0 से हराया था। दोनों टीमों के बीच यह वेस्टइंडीज में यह50वां टेस्ट है।

DBApp



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
अजिंक्य रहाणे ने टेस्ट करियर का 18वां अर्धशतक लगाया।
अजिंक्य रहाणे को शेनॉन गेब्रियल ने बोल्ड कर दिया।
केमार रोच ने तीन विकेट लिए।
लोकेश राहुल के खिलाफ अपील करते रोस्टन चेज।
विराट का विकेट हासिल करने के बाद गेब्रियल। कोहली 9 रन ही बना सके।
बल्लेबाजी के दौरान बाउंसर से बचते विराट कोहली।
ओपनिंग करने जाते मयंक अग्रवाल और लोकेश राहुल।
विंडीज टीम।
टॉस के दौरान विराट कोहली, जेसन होल्डर और मैच रेफरी डेविड बून।
प्रैक्टिस के दौरान विराट कोहली।
विंडीज के बल्लेबाज डैरेन ब्रावो।

Click here to Read full Details Sources @ https://www.bhaskar.com/sports/cricket/news/india-vs-west-india-ind-vs-wi-1st-test-day-1-live-cricket-news-update-antigua-stadium-01623619.html

चंद्रयान-2 ने चांद की पहली तस्वीर भेजी, 7 सितंबर को सतह पर लैंड करेगा


नई दिल्ली. चंद्रयान-2 ने बुधवार को चांद की पहली फोटो भेज दी है। इसरो ने ट्वीट कर बताया कि यह तस्वीर चंद्रयान-2 के विक्रम लैंडर ने चांद की सतह से 2650 किमी की ऊंचाई से ली है।इससे पहले चंद्रयान-2 मंगलवार सुबह 9.02 बजे चंद्रमा की कक्षा में पहुंचा।

इसरो ने बताया कि कक्षा में पूरी तरह स्थापित होने में इसे करीब आधा घंटालगा। 23 दिन पृथ्वी के चक्कर लगाने के बाद चंद्रमा की कक्षा में पहुंचने में इसे 6 दिन लगे। 7 सितंबर को चांद की सतह पर पहले से निर्धारित जगह (दक्षिणी ध्रुव) पर सॉफ्ट लैंडिंग करेगा।

चंद्रयान 2

चंद्रयान-2 का वजन 3,877 किलो
चंद्रयान-2 को भारत के सबसे ताकतवर जीएसएलवी मार्क-III रॉकेट से लॉन्च किया गया। इस रॉकेट में तीन मॉड्यूल ऑर्बिटर, लैंडर (विक्रम) और रोवर (प्रज्ञान) हैं। इस मिशन के तहत इसरो चांद के दक्षिणी ध्रुव पर लैंडर को उतारने की योजना है। इस बार चंद्रयान-2 का वजन 3,877 किलो है। यह चंद्रयान-1 मिशन (1380 किलो) से करीब तीन गुना ज्यादा है। लैंडर के अंदर मौजूद रोवर की रफ्तार 1 सेमी प्रति सेकंड है।


चंद्रयान-2 मिशन क्या है?
चंद्रयान-2 वास्तव में चंद्रयान-1 मिशन का ही नया संस्करण है। इसमें ऑर्बिटर, लैंडर (विक्रम) और रोवर (प्रज्ञान) शामिल हैं। चंद्रयान-1 में सिर्फ ऑर्बिटर था, जो चंद्रमा की कक्षा में घूमता था। चंद्रयान-2 के जरिए भारत पहली बार चांद की सतह पर लैंडर उतारेगा। यह लैंडिंग चांद के दक्षिणी ध्रुव पर होगी। इसके साथ ही भारत चांद के दक्षिणी ध्रुव पर यान उतारने वाला पहला देश बन जाएगा।


ऑर्बिटर, लैंडर और रोवर क्या काम करेंगे?
चांद की कक्षा में पहुंचने के बाद ऑर्बिटर एक साल तक काम करेगा। इसका मुख्य उद्देश्य पृथ्वी और लैंडर के बीच कम्युनिकेशन करना है। ऑर्बिटर चांद की सतह का नक्शा तैयार करेगा, ताकि चांद के अस्तित्व और विकास का पता लगाया जा सके। वहीं, लैंडर और रोवर चांद पर एक दिन (पृथ्वी के 14 दिन के बराबर) काम करेंगे। लैंडर यह जांचेगा कि चांद पर भूकंप आते हैं या नहीं। जबकि, रोवर चांद की सतह पर खनिज तत्वों की मौजूदगी का पता लगाएगा।

DBApp



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
ISRO: First Moon image captured by Chandrayaan2

Click here to Read full Details Sources @ https://www.bhaskar.com/national/news/isro-first-moon-image-captured-by-chandrayaan2-01623695.html

कांग्रेस ने कहा- सीबीआई ने इंद्राणी पर भरोसा किया, जिस पर बेटी की हत्या के आरोप; पर चिदंबरम पर नहीं


नई दिल्ली. आईएनएक्स मीडियामामले में गिरफ्तार पूर्व गृहमंत्री पी चिदंबरम को गुरुवार को सीबीआई की विशेष अदालत के सामने पेश किया जाएगा। सीबीआई और ईडी की कार्रवाई को लेकर कांग्रेस ने सवाल उठाया। पार्टी प्रवक्ता रणदीप सिंहसुरजेवाला ने कहा कि भाजपा सरकार ने सीबीआई और ईडी के बदले की कार्रवाई करने वाले विभाग में बदल दिया। उन्होंने आरोप लगाया कि सीबीआई ने इस मामले में इंद्राणी मुखर्जी के बयानों पर भरोसा कर लिया, जिस पर अपनी ही बेटी की हत्या के आरोप हैं, लेकिन चिदंबरम पर नहीं।

सुरजेवाला ने कहा, ‘‘चिदंबरम की गिरफ्तारी दिनदहाड़े लोकतंत्र की हत्या है। चिदंबरम और उनके बेटे कार्ति आईएनएक्स मीडिया केस में न तो आरोपी हैं और न ही उनके खिलाफ कोई सबूत हैं। सरकार बदले की भावना सेकार्रवाई कर रही है और मुद्दों से ध्यान भटकाना चाहती है।’’

‘सरकारी मशीनरी का दुरूपयोग किया जा रहा’

सुरजेवाला ने कहा, ‘‘40 साल तक देश की सेवा करने वाले नेता को गिरफ्तार कर लिया गया। एजेंसियों के पास उनके खिलाफ केस चलाने का कोई मजबूत आधार नहीं है। पूरी पार्टी चिदंबरम के साथ है। हमें न्यायपालिका और मीडिया के एक हिस्से पर भरोसा है, जो सच्चाई दिखा सकते हैं। आज देश में हर सेक्टर मंदी की मार झेल रहा है। कई कंपनियों और फैक्ट्रियों पर ताले लग चुके हैं। युवा बेरोजगार हो रहे हैं। ऐसे में मोदी सरकार जनता का ध्यान बांटने के लिए सरकारी मशीनरी का दुरुपयोग कर रही है।’’

यह निंदनीय है: एमके स्टालिन

डीएमके अध्यक्ष एमके स्टालिन ने पी.चिदंबरम मामले पर चेन्नई में कहा- मैंने भी देखा कि किस तरह से सीबीआई ने दीवार फांदी और उन्हें गिरफ्तार किया। यह भारत के लिए शर्मनाक है। यह राजनीतिक बदला है। चिदंबरम ने अंतरिम जमानत की मांग की थी मगर उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया। यह निंदनीय है।

यह बहुत ही दुखद है: बनर्जी

प.बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा- कुछ मौकों पर प्रक्रिया ही गलत होती है। मैं कानूनी पक्ष की बात नहीं कर रही हूं। मगर चिदंबरम जैसे वरिष्ठ राजनेता, वे पूर्व वित्तमंत्री और गृह मंत्री भी रह चुके हैं। इस मामले को जिस तरह से संभाला गया, वो बेहद परेशान करने वाला है। यह बहुत ही दुखद है।

DBApp



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने दिल्ली में कहा कि हमें न्यायपालिका और मीडिया के एक हिस्से पर भरोसा है, जो सच्चाई दिखा सकते हैं।

Click here to Read full Details Sources @ https://www.bhaskar.com/national/news/chidambaram-congress-press-conference-on-cbi-arrested-p-chidambaram-in-inx-media-case-live-01623101.html

अमेजन के जंगलों में 6 साल की सबसे बड़ी आग, दुनिया की 20% ऑक्सीजन यहां पैदा होती है


ब्रासीलिया.ब्राजील में अमेजन के जंगलों में आग लगने की घटना रिकॉर्ड स्तर पर है। नेशनल इंस्टीट्यूट फॉर स्पेस रिसर्च के अनुसार बीते आठ महीने में 73,000 बार आग लगने की घटनाएं दर्ज हुईं। 2018 के मुकाबले इस बार ऐसी घटनाओं में 83% बढ़ोतरी दर्ज की गई है।

2013 के बाद आग लगने का यह सबसे बड़ा आंकड़ा है। अधिकारियों के मुताबिक जंगलों में आग बीते दो-तीन सप्ताह से लगातार बढ़ रही है। ब्राजील नेइन घटनाओं पर महीने की शुरुआत में ही आपातकाल घोषित किया था।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
अमेजन के जंगल में आग। -एजेंसी

Click here to Read full Details Sources @ https://www.bhaskar.com/international/news/amazon-amazonian-record-rainforest-fires-2019-01623551.html

याचिकाकर्ता ने कहा- मुझे विवादित स्थल पर उपासना का हक, इसे छीना नहीं जा सकता


नई दिल्ली.अयोध्या भूमि विवाद मामले मेंगुरुवार को सुप्रीम कोर्ट की पांच सदस्यीय बेंच ने 10वें दिन सुनवाई की। चीफ जस्टिस रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली बेंच के सामने याचिकाकर्ता गोपाल सिंह विशारद की ओर से वकील रंजीत कुमार ने दलीलें पेश कीं। उन्होंने कहा कि वे उपासक हैं और उन्हें विवादित स्थल पर उपासना का अधिकार है और इसे छीना नहीं जा सकता। कुमार ने रामलला और हिंदू पक्ष के वकीलों की दलीलों का समर्थन किया। विशारद ने विवादित भूमि पर पूजा के लिए 1950 में याचिका लगाई थी।

रंजीत कुमार ने कहा कि मस्जिद गिरने के बाद मुस्लिमों ने अयोध्या मेंनमाज पढ़ना बंद कर दिया, लेकिन हिंदुओं ने जन्मस्थान पर पूजा जारी रखी।बुधवार को रामलला विराजमान के वकील सीएस वैद्यनाथन ने कहा था कि लोगों की आस्था ही यह साबित करने के लिए काफी है कि विवादित जगह राम जन्मभूमि है, फिर भले ही वहां मंदिर रहा हो या नहीं।

अयोध्या मामले में अब तक क्या हुआ?
सुप्रीम कोर्ट ने विवाद को बातचीत से सुलझाने के लिए मार्च में मध्यस्थता पैनल बनाया था। इससे हल नहीं निकलने पर कोर्ट में हर दिन सुनवाई शुरू हुई। यह तब तक चलेगी, जब तक कोई नतीजा नहीं निकल जाता।

पहली सुनवाई: 6 अगस्त को सुनवाई के पहले दिन निर्मोही अखाड़ा ने पूरी 2.77 एकड़ विवादित जमीन पर अपना दावा किया। उन्होंने कहा था कि पूरी विवादित भूमि पर 1934 से ही मुसलमानों को प्रवेश की मनाही है।

दूसरी सुनवाई: 7 अगस्त को बेंच ने पक्षकार निर्मोही अखाड़े से संबंधित 2.77 एकड़ भूमि के दस्तावेज पेश करने को कहा था। इस पर अखाड़े ने कहा था कि 1982 में वहां डकैती हुई, जिसमें सभी दस्तावेज खो गए।

तीसरी सुनवाई: 8 अगस्त को बेंच ने पूछा कि एक देवता के जन्मस्थल को न्याय पाने का इच्छुक कैसे माना जाए, जो इस केस में पक्षकार भी हो। इस पर वकील ने कहा था कि हिंदू धर्म में किसी स्थान को पवित्र मानने और पूजा करने के लिए मूर्तियों की आवश्यकता नहीं है। नदियों और सूर्य की भी पूजा की जाती है। उनके उद्गम स्थलों को इसी तरह से देखा जाता है।

चौथी सुनवाई: 9 अगस्त को सुप्रीम कोर्ट ने रामलला के वकील से पूछा था- क्या भगवान राम का कोई वंशज अयोध्या या दुनिया में है? इस पर वकील ने कहा था- हमें जानकारी नहीं है। बाद में जयपुर राजघराने की दीयाकुमारी ने खुद को श्रीराम के बड़े बेटे कुश के वंशज होने का दावा किया था। मुस्लिम पक्ष ने हफ्ते में पांच दिन सुनवाई पर आपत्ति जताई थी।

5वीं सुनवाई: 13 अगस्त को हिंदू पक्ष के वकील सीएस वैद्यनाथन ने मंदिर के अस्तित्व को लेकर दलीलें पेश कीं। उन्होंने कहा था- इलाहाबाद हाईकोर्ट के फैसले में विवादित जगह पर मंदिर होने का जिक्र है। हाईकोर्ट के जस्टिस एसयू खान ने कहा था कि यह मस्जिद मंदिर के टूटे-फूटे हिस्से पर बनाई गई है।

6वीं सुनवाई: 14 अगस्त को रामलला विराजमान के वकील ने कहा कि हिंदुओं का विश्वास है कि अयोध्या भगवान राम का जन्मस्थान है और कोर्ट को इसके तर्कसंगत होने की जांच के लिए इससे आगे नहीं जाना चाहिए। उन्होंने यह भी कहा था कि मुगल शासक अकबर और जहांगीर के काल में भारत आने वाले विदेशी यात्री विलियम फिंच और विलियम हॉकिन्स ने अपने यात्रा-वृतांत में राम जन्मभूमि और अयोध्या के बारे में लिखा है।

7वीं सुनवाई: 16 अगस्त को रामलला के वकील एस. वैद्यनाथन ने कहा था कि खुदाई के दौरान स्तंभों में श्रीकृष्ण, शिव तांडव और श्रीराम के बाल रूप की तस्वीर दिखती है। रिपोर्ट में स्तंभों पर भगवान शंकर के चित्रों की बात भी कही गई थी। उन्होंने कहा था कि देवी-देवताओं के चित्र मस्जिद नहीं बल्कि मंदिर में मिले थे। इस स्थल का हिंदुओं के लिए धार्मिक रूप से महत्व है।

8वीं सुनवाई: 20 अगस्त को रामलला विराजमान के वकील सीएस वैद्यनाथन ने दलील पेश करते हुए कहा कि विवादित जमीन पर मस्जिद बनाने के लिए मंदिर ढहाया गया था। भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआई) की खुदाई में जो चीजें सामने आई हैं, उसके मुताबिक वहां मंदिर था। जहां मस्जिद बनाई गई थी, उसके नीचे एक विशाल निर्माण था।

9वीं सुनवाई: रामलला के वकील सीएस वैद्यनाथन ने कहा- हिंदुओं ने हमेशा ही उस स्थान पर पूजा करने की अपनी इच्छा जाहिर की है। यह जगह एक देवता राम की जन्मभूमि है। अब इसका तो सवाल ही नहीं उठता है कि कोई वहां मस्जिद बना दे और जमीन पर दावा करे। कोई भी मस्जिद के आधार पर इस संपत्ति पर अपने कब्जे का दावा नहीं कर सकता।

हाईकोर्ट ने विवादित जमीन को 3 हिस्सों में बांटने के लिए कहा था
2010 में इलाहाबाद हाईकोर्ट के फैसले के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में 14 याचिकाएं दाखिल की गई थीं। हाईकोर्ट ने अपने फैसले में कहा था कि अयोध्या का 2.77 एकड़ का क्षेत्र तीन हिस्सों में समान बांट दिया जाए। पहला-सुन्नी वक्फ बोर्ड, दूसरा- निर्मोही अखाड़ा और तीसरा- रामलला विराजमान।

DBApp



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
अयोध्या।
Ayodhya Ram Mandir; Ayodhya Supreme Court Hearing, Day 10th: Ram Janmabhoomi Babri Masjid Case News Updates

Click here to Read full Details Sources @ https://www.bhaskar.com/national/news/ayodhya-ram-mandir-supreme-court-hearing-day-10th-22-august-ram-janmabhoomi-babri-masjid-01623225.html

सोनिया ने कहा- राजीव गांधी 1984 में भारी बहुमत से जीते थे लेकिन भय का माहौल नहीं बनाया


नई दिल्ली. कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने गुरूवार को कहा कि 1984 में राजीव गांधीने चुनाव में भारी बहुमत से जीत हासिल की थी लेकिन उन्होंने लोगों को धमकाने या भय का माहौल बनाने की कभी कोशिश नहीं की। पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधीकी 75वीं जयंती के मौके पर हुए कार्यक्रम में सोनिया ने कहा- पार्टी के सामने विकट चुनौतियां हैं। मगरबांटने वाली ताकत के खिलाफ वैचारिक संघर्ष जारी रहना चाहिए।

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि प्रधानमंत्री के रूप में राजीव गांधी ने अनेकता में एकता को बनाए रखने का संदेश दिया था। कांग्रेस,पूर्व प्रधानमंत्री की 75वीं जयंती को रिवाज के तौर पर पेश नहीं कर रही है बल्कि यह अवसर उनके मूल्यों को जीवंत बनाएरखने के प्रतीक के तौर पर है।

तकनीक से सामाजिक क्रांति लाईथी: सोनिया

सोनिया ने कहा कि राजीव गांधी आज भी हम सभी के दिल में बसते हैं। उन्होंने हमेशा देश को मजबूत, सुरक्षित और आत्मनिर्भर बनाने का प्रयास किया। 18 साल के युवाओं को मतदान का अधिकार देने का निर्णय लिया। उन्होंने पंचायतों और नगरपालिकाओं को वैधानिक दर्जा प्रदान किया। दूरसंचार के क्षेत्र में क्रांति लाईथी। तकनीक का इस्तेमाल समाज को बदलने में किया था।

राहुल ने ट्वीट कर पिता को याद किया

इससे पहले, राहुल गांधी ने अपने पिता को याद करते हुए ट्वीट किया कि, “राजीव गांधी जी की उपलब्धियों में पंजाब, असम तथा मिजोरम के समझौते हैं, जिससे वर्षों की हिंसा और संघर्ष को खत्म करने में मदद मिली। इन समझौतों ने भारतीय संघ को मजबूत किया। यह आपसी सम्मान, समझदारी और शांतिपूर्ण सह-अस्तित्व की नींव पर निर्मित है।”

DBApp



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
राजीव गांधी की जयंती पर संबोधित करतीं सोनिया गांधी। -एजेंसी

Click here to Read full Details Sources @ https://www.bhaskar.com/national/news/sonia-rajiv-got-full-majority-in-1984-but-never-used-power-to-create-atmosphere-of-fear-01623757.html

बुलेट ट्रेन खुले दरवाजे के साथ 280 किमी/घंटा की रफ्तार से दौड़ी, 340 यात्री सवार थे


टोक्यो. जापान में बुधवार को बुलेट ट्रेन का एक बड़ा हादसा टल गया। अपनी तेज रफ्तार और सुरक्षा के पैमानों के लिए दुनियाभर में लोकप्रिय शिंकानसेन ट्रेन का दरवाजा 280 किमी प्रतिघंटा की रफ्तार पर खुला रह गया, जिससे इसमें सफर कर रहे करीब 340 यात्रियों की जान पर खतरा पैदा हो गया। हालांकि, सिक्योरिटी स्टाफ की मुस्तैदी की वजह से यह स्थिति ज्यादा देर तक नहीं रही और सेंडाई स्टेशन पर ही दरवाजा खुले होने की जानकारी ट्रेन ड्राइवर को दे दी गई।

जापानी न्यूज वेबसाइट निक्केई के मुताबिक, टोक्यो से चली हायाबूसा ट्रेन नंबर-46 के एक कैरिज का दरवाजा रवाना होने से पहले ही खुला था। जब ट्रेन सेंडाई स्टेशन से गुजरी तो वहां पर एक कंडक्टर ने कैरिज में जलती वॉर्निंग लाइट देख ली। इसके बाद उसने अफसरों को खतरे की सूचना दी। बुलेट ट्रेन को सेंजाई के आगे ही एक सुरंग में रुकवाया गया। कैरिज की पूरी चेकिंग और यात्रियों की जानकारी लेने के बाद ट्रेन को रवाना किया गया।

जापान हाई स्पीड ट्रेनें दुनिया में सबसे सुरक्षित

शिंकानसेन की संचालक ईस्ट जापान रेलवे ने घटना के लिए यात्रियों से माफी मांगी है। प्रशासन ने कहा है कि वो यह तय करने की कोशिश करेगा कि ऐसी घटना दोबारा न हो। दरअसल, जापान के हाई स्पीड रेल नेटवर्क को दुनिया की सबसे समय पाबंद रेल सेवाओं में गिना जाता है। इसके अलावा इन ट्रेनों को काफी सुरक्षित भी कहा जाता है। शिंकानसेन का इमरजेंसी स्टॉप सिस्टम खुद ही भूकंप जैसे खतरों को भांप कर ट्रेन को धीमा कर लेता है।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
Bullet Train Japan | Sendai Tokyo Japan Fastest Bullet Train Door Opens at 280 Kilometres With 340 Passenger On Board

Click here to Read full Details Sources @ https://www.bhaskar.com/international/news/sendai-tokyo-japan-fastest-bullet-train-door-opens-at-280-kilometres-with-340-passenger-on-01623591.html

बालाकोट हमले के बाद मोदी ने विदेश यात्रा के लिए पहली बार पाक के एयरस्पेस का इस्तेमाल किया


नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी फरवरी में बालाकोट एयर स्ट्राइक के बाद पहली बार गुरुवार को पाकिस्तानी एयरस्पेस का इस्तेमाल किया। प्रधानमंत्री मोदी 22 से 26 अगस्त के बीच फ्रांस, यूएईऔर बहरीन की यात्रा पर हैं। वे फ्रांस के राष्ट्रपति मैक्रॉन के निमंत्रण पर बियारेट्ज शहर में 24-26 अगस्त को होने वाले 45वें जी-7 समिट में हिस्सा लेंगे।

इससे पहले, 26 फरवरी को बालाकोट में भारतीय वायुसेना की कार्रवाई के बाद पाकिस्तान ने अपना एयरस्पेस बंद कर दिया था, जिसे 139 दिन बाद 18 जुलाई कोफिर खोल दिया गया था। एयरस्पेस बंद होने के दौरान यूरोप और खाड़ी देशों की ओर जाने वाली सभी फ्लाइट गुजरात के ऊपर से अरब सागर पार करते हुए जा रही थीं।

पाक ने एयरस्पेस के एक कॉरिडोर को बंद किया

इसके बाद, जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने के बाद पाकिस्तान ने एक बार फिर एयरस्पेस का एक कॉरिडोर बंद कर दिया। इससे अमेरिका, यूरोप और मध्य पूर्व जाने वाली फ्लाइट्स को 12 मिनट का अतिरिक्त समय लग रहा है। मोदी अपनी तीन देशों कीयात्रा के पहले पड़ाव में फ्रांस के राष्ट्रपति एमानुएल मैंक्रॉन से मुलाकात करेंगे।

‘ऑर्डर ऑफ जायद’ से सम्मानित होंगे मोदी

मोदी तीसरी बार यूएई जाएंगे। वहां उन्हें देश के सर्वोच्च सम्मान ‘ऑर्डर ऑफ जायद’ से सम्मानित किया जाएगा। वे अबू धाबी के क्राउन प्रिंस शेख मोहम्मद बिन जायद अल नाहयान के साथ बैठक करेंगे। महात्मा गांधी की 150वीं जयंती को चिह्नित करने के लिए एक डाक टिकट जारी करेंगे।24 अगस्त को वे बहरीन जाएंगे और किंग शेख हमाद बिन इसा अल खलीफा और अन्य नेताओं से मिलेंगे।

DBApp



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
फ्रांस के लिए रवाना होते मोदी।- एजेंसी

Click here to Read full Details Sources @ https://www.bhaskar.com/national/news/narendra-modi-uses-pakistan-airspace-to-travel-to-france-news-updates-01623679.html

तीर्थयात्रियों ने झील के किनारे हवन किया, चीन ने कहा- यह हमारा क्षेत्र, नियम का पालन करें


गंगटोक.सावन महीने के अंतिम सोमवार को हिंदू तीर्थयात्रियों ने कैलाश मानसरोवर झील के किनारे हवन-पूजन किया। कैलाश पर्वत चीन के तिब्बत स्वशासी क्षेत्र में स्थित है। इस दौरान अली प्रीफेक्चर के डिप्टी कमिश्नर जी किंगमिन ने कहा कि भारतीय तीर्थयात्री हमारे क्षेत्र में आते हैं। ऐसे में उन्हें हमारे नियम-कानूनों का पालन करना चाहिए। अगर हम भारत जाएंगे तो वहां के नियमों का ध्यान रखेंगे।

‘भारत यात्रियों की सुविधाओं का ध्यान रखे’
किंगमिन ने कहा, ‘‘चीन कैलाश मानसरोवर आने वाले भारतीय यात्रियों की सुविधा का पूरा ध्यान रखता है। भारत सरकार को भी अपनी तरफ के इलाके में यात्रियों की सुविधा के लिए इन्फ्रास्ट्रक्चर को बेहतर बनाना चाहिए। हमें उम्मीद है कि भारत सरकार अपने तरफ की सड़क सुधारेगी। यात्रियों को लिपुलेख (उत्तराखंड) से आने में 4-5 दिन लगते हैं। इसमें काफी समय और ऊर्जा लगती है।’’

‘‘अली प्रीफेक्चर की सरकार यात्रियों की सुविधा और सुरक्षा का हर तरह से ध्यान रखती है। यात्रियों को तकलीफ न हो, इसलिए हमने रास्ता ठीक रखने में काफी पैसा खर्च किया है।’’

‘सावन सोमवार के मौके पर यज्ञ किया’
बैच 13 के संपर्क अधिकारी सुरिंदर ग्रोवर ने बताया- हमारा जत्था 30 जुलाई को दिल्ली से रवाना हुआ था। हमने कैलाश की परिक्रमा पूरी की। इसके बाद मानसरोवर झील के किनारे यज्ञ किया। कल सावन का अंतिम सोमवार और कार्तिक मास परितोष तिथि थी, इसलिए यज्ञ करना शुभ था।

हर साल जून से सितंबर के बीच होती है यात्रा
हिंदू मान्यतानुसार, कैलाश पर्वत को भगवान शिव का निवास स्थान माना जाता है। बौद्ध मानते हैं कि बुद्ध इसी क्षेत्र में अपनी मां रानी महामाया के गर्भ में आए थे। जैनों का मानना है कि उनके पहले तीर्थंकर भगवान ऋषभदेव को कैलाश के पास अष्टपद पर्वत पर मोक्ष मिला था।

भारतीय विदेश मंत्रालय हर साल जून से सितंबर के बीच कैलाश मानसरोवर की यात्रा कराता है। इसमें हिंदू, बौद्ध और जैन तीर्थयात्री शामिल होते हैं। इसके लिए चीन सरकार से वीजा लेना होता है। कैलाश मानसरोवर जाने के दो रास्ते हैं। एक उत्तराखंड में लिपुलेख दर्रा और दूसरा सिक्किम में नाथू ला दर्रा होकर जाता है।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
Pilgrims perform a havan on the banks of the lake, China said - this is our region, follow the rule
Pilgrims perform a havan on the banks of the lake, China said - this is our region, follow the rule

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/pilgrims-perform-a-havan-on-the-banks-of-the-lake-china-said-this-is-our-region-follow-the-rule-1565674555.html

बदायूं में गेहूं से भरा ट्रक चाय की दुकान पर पलटा, 7 की मौत; इनमें 2 बच्चियां और कांवड़िए भी शामिल


बदायूं.उत्तर प्रदेश के बदायूं जिले में गेहूं से भरा एक ट्रक सोमवार रात चाय की दुकान पर पलट गया। हादसे में दो बच्चियोंऔर पांच कांवडियों की मौत हो गई। पांच घायलों का इलाज चल रहा है। हादसा उसावां क्षेत्र में हजरतपुर-म्याऊं रोड पर हंडौरा गांव के पास हुआ। घटना के गुस्साए लोगों ने पुलिस-प्रशासन के खिलाफनारेबाजी की। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मृतकों के परिजनको 2-2 लाख और घायलों को 50-50 हजार रु. की मदद का ऐलान किया है।

एसपी अशोक कुमार त्रिपाठी ने बताया कि ट्रक ओवरलोड था।कांवड़ियों को बचाने के प्रयास में ट्रक अनियंत्रित होकर चाय की दुकान पर पलट गया। उस समय होटल पर कांवड़ियों का एक जत्था सामान खरीद रहा था। मरने वालों में कांवड़िए और दुकान मालिक दो नातिन शामिल हैं। डीएम दिनेश कुमार सिंह ने बताया कि हादसे के बाद जेसीबी और क्रेन की मदद से गेहूं की बोरियां हटाकर शव निकाले गए।

DBApp



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
badaun truck accident in banaun up children and kanwariya killed

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/badaun-truck-accident-in-banaun-up-children-and-kanwariya-killed-01616827.html

बाढ़ में 8 लोग फंसे थे, आरपीएफ जवान बोला- बचाने जा रहा हूं, न लौटूं तो परिवार को बता देना और सभी को बचा लिया


भुज.गुजरात में कच्छ के इलाके भुज में रविवार को बाढ़ के कारण आसपास के इलाकों में 20 फीट से ज्यादा पानी भर गया। हालात इतने खराब हो गए कि ट्रेनों को भी बीच में ही रोकना पड़ गया। ऐसे ही संकट के दौरान ट्रेन में तैनात आरपीएफ जवान शिवचरण गुर्जर ने जान की बाजी लगाते हुए बाढ़ में पेड़ पर फंसे 8 लोगों को बचा लिया।

दरअसल, शिवचरणमहेसाणा से गांधीधाम जा रही ट्रेन में ड्यूटी पर थे।ट्रेक पर पानी भरने सेसामखियाली गांव के पास ट्रेन कोरोक दिया गया। ट्रेन से शिवचरण ने देखा कि दूर पेड़ पर कुछ लोग फंसे हैं और मदद के लिए चिल्ला रहे हैं। उन्होंने फंसे लोगों को बचाने की ठानी। पेड़ के आसपास 20 फीट तक पानी था। सामखियाली पुलिस भी लाेगाें काे निकालने के लिए जद्दोजहद कर रही थी।

पुलिस ने कहा- पानी गहरा है, शिवचरणरस्सी लेकर कूद पड़े
पानी का बहाव तेज होने से रेस्क्यू ऑपरेशन की रणनीति पर विचार चल रहा था। तभी, शिवचरण पानी में कूदने लगे, तो पुलिस ने कहा कि पानी गहरा है। इस पर शिवचरण ने कहा,'मैं इन लोगों को बचाने के लिए जा रहा हूं, आप वीडियो बना लेना। शायद वापस न लौट सकूं। मेरे परिवारवालों को वीडियो दिखाकर कहना कि लोगों को बचाने के लिए मैं शहीद हो गया।' इतना कहकर शिवचरण ट्रेन से ही रस्सी लेकर कूद पड़े और तेज बहाव के बावजूद तैरते हुए उस पेड़ तक जा पहुंचे, जहां लोग फंसे थे। यहां से एक-एक कर 8 लोगों काे उन्होंने बाहर निकाला।

पुलिस ने कहा- हमतय नहीं कर पा रहे थे
ट्रेन में मौजूद भचाऊ के डीएसपी केजी झाला ने कहा कि जो साहस शिवचरण ने दिखाया वह सराहनीय है। उन्होंने बिना समय गंवाए हमसे रस्सी मांगी और तेज बहाव में कूद पड़े। जबकि हम यह तय भी नहीं कर पाए थे कि लोगों को किस तरह बचाना है।

एसपी ने कहा- हम राष्ट्रपति पुरस्कार के लिए नाम भेजेंगे
कच्छ में भारी बारिश के कारण बाढ़ आई हुई है। वायुसेना के हेलिकॉप्टरकी मदद से अब तक 300 से अधिक लोगों को रेस्क्यू किया गया है। कच्छ की एसपी परीक्षिता गुर्जर ने कहा कि ट्रेन से निकलकर 8 लोगों को बचाने वाले आरपीएफ जवान शिवचरण का नाम रेलवे पुलिस की ओर से राष्ट्रपति पदक के लिए नामांकित किया जाएगा।

DBApp



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
बाढ़ में फंसे लोगों को शिवचरण ने एक-एक कर बचा लिया। इंसेट में जवान।

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/rpf-jawan-shivcharan-gurjar-saving-his-life-saved-8-people-trapped-on-the-tree-in-the-fl-01616829.html

शाह 15 अगस्त को श्रीनगर में तिरंगा फहराना चाह रहे, अफसरों को गृहमंत्री के आने से हालात बिगड़ने की आशंका


श्रीनगर. (बादामी बाग कैंट सेे उपमिता वाजपेयी)कश्मीर में साेमवार काे बकरीद शांतिपूर्ण तरीके से मनाई गई। कुछ इलाकाें में प्रदर्शन और पत्थरबाजी की छिटपुट घटनाएं हुईं। हालांकि, कर्फ्यू जैसी पाबंदियाें के चलते त्याेहार की राैनक गायब रही। गृह मंत्रालय ने कहा कि बारामूला की जामा मस्जिद में 10 हजार लाेग पहुंचे। अब 15 अगस्त का आयोजन सुरक्षाबलों के लिए चुनौतीपूर्ण होगा। कहा जा रहा है कि उस दिन गृहमंत्री अमित शाह श्रीनगर के लालचौक पर तिरंगा फहराना चाहते हैं। इसे लेकर एनएसए अजीत डोभाल के साथ बैठक भी हुई। इसमें स्थानीय अफसरों ने ऐसा नहीं करने की सलाह दी है।

आप दिल्ली पहुंचकर मेरी मां को फोन कर देना, कहना मैं ठीक हूं

“सुनिए, आप दिल्ली जा रही हैं क्या? वहां पहुंचकर आपका फोन चालू हो तो प्लीज मेरी मम्मी को फोन कर दीजिएगा? उनसे कहना मैं बिलकुल ठीक हूं, वो चिंता न करें। 15 दिन पहले ही मेरे पिताजी नहीं रहे, मुझे ड्यूटी पर लौटना पड़ा। मां को मेरी चिंता हो रही होगी।” एक कागज के टुकड़े पर बादामी बाग कैंट के बाहर खड़े जवान ने अपनी मां और पत्नी का नंबर लिखकर मुझे दे दिया। जम्मू लौटकर जब फोन के सिग्नल मिले तो और मैंने उनके घर फोन किया। पता चला उस जवान का बेटा बीमार है और आगरा के आर्मी हॉस्पिटल में भर्ती है। मैंने उसकी पत्नी से कहा मैं दो दिन बाद फिर लौटूंगी और उन्हें ये खबर दे दूंगी। लेकिन उनकी पत्नी ने मना कर दिया। कहा उन्हें ये सब मत बताना, वह ड्यूटी पर हैं, टेंशन हो जाएगा। 10 दिनों से घाटी में फोन बंद हैं। खामियाजा सिर्फ स्थानीय लोगों को नहीं उन्हें भी भुगतना पड़ रहा है जो वहां ड्यूटी पर तैनात हैं। हाथ में सैटेलाइट फोन है लेकिन सिर्फ इसलिए कि वह अपनी ड्यूटी पूरी कर सकें। वे नहीं जानते उनके घरों में क्या हो रहा होगा। घर के लोगों को नहीं पता कि उनके बेटे और पति कैसे हैं। जो खबरें मिल रही हैं उनमें सिर्फ स्थानीय लोगों और हालात की बात है।

कश्मीर का लालचौक सूना पड़ा है, सीआरपीएफ की तैनाती

हर साल 15 अगस्त को खास चर्चा में रहने वाला कश्मीर का लालचौक सूना पड़ा है। कर्फ्यू न होता तो आसपास के बाजार भीड़ से पटे होते। इस संवेदनशील इलाके में सीआरपीएफ के जवान 24 घंटे सुरक्षा में मुस्तैद हैं। 500 मीटर दूर से ही घेरेबंदी कर दी गई है। इस घेरेबंदी को पार करना यहां तक की इसके साथ फोटो लेना भी मना है। आमतौर पर जो लालचौक टीवी चैनलों के फ्रैम में खास जगह लेता है अब उन्हें भी ऐसा नहीं करने दिया जा रहा है। फोटो लेना है तो घेरेबंदी के बाहर से लो, वहां खड़े सीआरपीएफ जवान ने कहा। यूं तो हर साल 15 अगस्त पर लालचौक इलाका इसी चाकचौबंद सुरक्षा में रहता है लेकिन इस बार अगर अमित शाह यहां झंडा फहराते हैं तो ये बेहद खास होगा।

यूपी-बिहार के 50 हजार से ज्यादा मजदूरों को पलायन

स्थानीय लोगों को डर है कि धारा 370 हटने से उनकी परंपराओं और माहौल पर असर होगा। उनका डर बाहरी लोगों के पलायन में बदल रहा है। पिछले एक हफ्ते में 50 हजार से ज्यादा बाहरी जिनमें ज्यादातर यूपी और बिहार के मजदूर हैं, कश्मीर से जा चुके हैं। प्रशासन ने उनके लिए बकायदा टीआरसी के बाहर एक रिलीफ कैम्प बनाया था। जो इक्का-दुक्का अभी कश्मीर में मौजूद हैं वो भी बाहर निकलने की जुगत में हैं। रवि कुमार बिहार के रहने वाले हैं। 6 सालों से कश्मीर में होटल में नौकरी करते हैं। उनसे पूछा तो बोले अब उनका यहां रहना ठीक नहीं, वैसे भी उन्हें कोई काम नहीं मिलेगा यहां।

DBApp



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
दिल्ली में मौजूद कश्मीर की यह लड़की ईद पर अपने घर नहीं जा पाई।

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/shah-wants-to-hoist-the-tricolor-in-srinagar-on-august-15-administration-confused-01616751.html

इंटरनेट ऑफ थिंग्स प्लेटफॉर्म का कमर्शियल लॉन्च अगले साल 1 जनवरी को होगा


मुंबई. रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने कंपनी की 42वीं एजीएम में सोमवार को कहा कि जियो के इंटरनेट ऑफ थिंग्स (आईओटी) प्लेटफॉर्म का कमर्शियल लॉन्च 1 जनवरी 2020 को होगा। आईओटी फिजिकल डिवाइस और रोजाना इस्तेमाल की वस्तुओं के लिए इंटरनेट कनेक्टिविटी का विस्तार है। इसका उद्देश्य एक अरब डिवाइसेज को जोड़ना है। इससे सालाना 20 हजार करोड़ रुपए का रेवेन्यू मिलने की उम्मीद है।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
मुकेश अंबानी।

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/reliance-to-launch-iot-platform-starting-january-2020-01616515.html

हमले का अलर्ट: आतंकियों के पोस्टर लगाए गए, पुलिस को तुरंत सूचना देने की अपील


नई दिल्ली. खुफिया एजेंसियों ने दिल्ली पुलिस को आतंकी हमले का अलर्ट दिया है। इसके बाद राजधानी में सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गई है। वहीं, राजीव चौक मेट्रो स्टेशन पर आतंकियों के पोस्टर लगाए गए हैं। इन पोस्टरों में इंडियन मुजाहिदीन, अल कायदा और खालिस्तान फोर्स के आतंकी हैं। पोस्टरों में पुलिस के नंबर दिए गए हैं। साथ ही इन्हें देखे जाने पर सूचना देने की अपील की गई है। जानकारी देने वाले का नाम गुप्त रखा जाएगा।

इस बीचसोमवार रात दिल्ली एयरपोर्ट के टर्मिनल 2 पर बम होने की खबर मिली। डिप्टी पुलिसकमिश्नर संजय भाटिया ने कहा कि कॉलर ने कहा कि इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे के टर्मिनल-2 पर बम रखागया है। अगर बम को फटने से रोक सकते हो तो रोककर दिखाओ।हालांकि, दिल्ली पुलिस ने तलाशी के बाद बम की सूचना को फर्जी बताया।

टर्मिनल 2 खाली कराया गया

भाटिया के मुताबिक- रात करीब साढ़े आठ बजे दिल्ली पुलिस कंट्रोल रूम को बम रखे होने की सूचना मिली थी। जिस नंबर से कॉल किया गया, यूजर ने पूछताछ में बताया कि उसने ऐसा कोई कॉल नहीं किया। पुलिस अभी भी ऐहतियातन सुरक्षा जांच कर रही है।

एयरपोर्ट अधिकारियों के मुताबिक, बम की धमकी के बाद टर्मिनल 2 को खाली करा लिया गया। यात्रियों को दूसरे गेट पर भेजा गया। बाहर से आने वाले यात्रियों को विमान के अंदर ही रहने के लिए कहा गया था। बाद में सामान्य रूप से टर्मिनल पर काम शुरू किया गया।

घरेलूयात्रियों को3 घंटे पहले पहुंचने के आदेश

स्वतंत्रता दिवस को देखते हुए एयरपोर्ट पर भारी संख्या में सुरक्षाबलों को तैनात किया गया है। एयरपोर्ट के अधिकारियों ने यात्रियों को जल्दी रिपोर्ट करने के लिए कहा है। साथ ही 20 अगस्त तक एयरपोर्ट पर मिलने वाले एरिया को बंद करने का आदेश दिया गया है। घरेलूयात्रियों को समय से तीन घंटे पहले औरअंतरराष्ट्रीय उड़ान भरने वालों को चार घंटे पहले एयरपोर्ट पहुंचने के लिए कहा गया है।

DBApp



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
Delhi: airport bomb threat call before independence day

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/delhi-airport-bomb-threat-call-before-independence-day-01616807.html

कांग्रेस कार्यकर्ता ने याचिका में कहा- जम्मू-कश्मीर में प्रतिबंध अनुचित; आज सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई


नई दिल्ली. जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद राज्य के वर्तमान हालात को लेकर दायर की गईयाचिका पर सुप्रीम कोर्ट में मंगलवार को सुनवाई होगी। यह याचिका कांग्रेस कार्यकर्ता तेहसीन पूनावाला ने दायर की थी। इस परजस्टिस अरुण मिश्रा, एम.आर. शाह और अजय रस्तोगी की बेंच सुनवाई करेगी।

कश्मीर टाईम्स की कार्यकारी संपादक अनुराधा भसीन ने भी याचिका दायर की थी। इसमें कहा गया था कि अनुच्छेद 370 को हटाए जाने के बाद राज्य में पत्रकारों पर प्रतिबंध लगा दिए गए थे,जिसे तत्काल हटाए जानेचाहिए। पूनावाला ने कहा कि वह अनुच्छेद 370 पर कोई विचार नहीं रखते हैं,लेकिन राज्य से कर्फ्यू, फोन लाइन्स, इंटरनेट और न्यूज चैनल पर से प्रतिबंध हटाए जाने चाहिए।

केंद्र ने किया मौलिक अधिकारों काउल्लंघन: पूनावाला

पूनावाला ने मांग की कि कोर्ट पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला और महबूबा मुफ्ती जैसे नेताओं को रिहा करने का आदेश जारी करे। जमीनी हकीकत की जांच के लिए एक न्यायिक आयोग कीगठन करे। केंद्र सरकार ने संविधान के अनुच्छेद 19 और 21 के मौलिक अधिकारों का उल्लंघन किया है।

याचिका में कहा गया, “जम्मू कश्मीर के निवासी जबरन कर्फ्यू का सामना कर रहे हैं। राज्य में धारा 144 लगा दी गई है, जिस कारण लोगों की गिरफ्तारी हो रही है। फोन लाइंस काट दी गई हैं। इंटरनेट सेवाएं बंद हैं। शैक्षणिक संस्थानें, बैंक, सरकारी कार्यालय, दुकानें और अन्य संस्थान आदि पर ताले लगे हैं। आमजन मूलभूत सेवाओं से वंचित हैं।”

‘कश्मीर को एकजुट करने वाले नेताओं की गिरफ्तारी गलत’

पूनावाला ने कहा था, “पूरा राज्य सुरक्षाकर्मियों से घिरा हुआ है।लोगों में भय का माहौल है। जबकि वहां पर अनुच्छेद 370 को हटाए जाने को लेकर किसी भी संगठन के द्वारा कोई प्रदर्शन नहीं हो रहा है।न वे किसी नियमका उल्लंघन कर रहे हैं।”

पूनावाला ने कहा, “अलगाववादी नेताओं को गिरफ्तार करना उचित हो सकता है लेकिन मुख्यधारा के नेताओं को हिरासत में रखना जरूर सवाल उठाते हैं क्योंकि उन्होंने कश्मीर को भारत के साथ एकजुट करने में अपना खून तक दे दिया था।”

नेशनल कॉन्फ्रेंस के सांसद मोहम्मद अकबर लोन और सेवानिवृत न्यायाधीश हसनैन मसूदी ने भी याचिका दायर की है।

DBApp



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
सुप्रीम कोर्ट

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/supreme-court-to-hear-plea-august-20-2019-against-regressive-measures-in-j-k-01616639.html

चैम्पियनशिप में हिस्सा लेने के लिए 19 साल का बॉक्सर बाढ़ में ढाई किमी तैरा, सिल्वर जीता


बेंगलुरु. कर्नाटक के बेलगावी जिले के मन्नूर के बॉक्सर निशान मनोहर कदम इन दिनों बॉक्सिंग इवेंट में पहुंचने के लिए ढाई किमीतक तैरने की वजह से सुखियों में है। दरअसल, राज्य में पिछले 15 दिनों से भारी बारिश हो रही है। 12 जिले बाढ़ से प्रभावित हैं।7 अगस्त कोमनोहर का गांवजिले के सबसे ज्यादा बाढ़ प्रभावित इलाकों में से एक था।पूरे गांव में पानी भर गया था।गांव को जोड़ने वाली तीनों सड़कें टूट चुकी थीं। इसकी वजह से रेस्क्यू टीम कापहुंचना भी मुश्किल हो रहा था।

निशान को बेंगलुरु में होने वाले इवेंट में शामिल होना था। ऐसे में 19 साल के निशान ने अपनी बॉक्सिंग किट को पॉलिथिन में पैक किया। फिरपिता के साथ बाढ़ के पानी में 45 मिनट में ढाई किमी तैरकर जिला बॉक्सिंगटीम तक पहुंचा। फिरबेंगलुरु पहुंचा और रविवार कोराज्य स्तरीय चैम्पियनशिप में सिल्वर जीता।

दो साल पहले बॉक्सिंग शुरू की थी

निशान बेलगावी के ज्‍योति पीयू कॉलेज में12वीं काछात्र है।उसनेदो साल पहले अर्जुन पुरस्‍कार विजेता कैप्‍टन मुकुंद किलेकर से ट्रेनिंग लेनी शुरू की थी।निशान ने बताया, "मैं किसी भी हालत में टीम तक पहुंचना चाहता था। मेरे पिता ने मेरा हौसला बढ़ाया और फिर हमने तैरकर अपनी टीम तक पहुंचने का फैसला किया।मैं गोल्ड हासिल नहीं कर सका। शायद मेरा लक मेरे साथ नहीं था। अगले साल गोल्ड ही जीतूंगा।"

ट्रेनिंग नहीं ले सका निशान

  • बॉक्सिंग टीम के मैनेजर गजेंद्र एस त्रिपाठी के मुताबिक, "बारिश और बाढ़ के कारण बीते कुछ दिनों से कर्नाटक कीस्थिति बहुत खराब रही। एक-जगह से दूसरी जगह जाना मुश्किल हो रहा था।प्रतिभागियों के माता-पिता बाढ़ के कारण उन्हेंघर से निकलने ही नहीं दे रहे थे।निशान भी कई दिनों तक ट्रेनिंग में नहीं आ पाया।"
  • "अच्छी बात यह रही कि वह इवेंट में शामिल हो पाया।निशान और उसके पिता ने अपने घर से उस दिनशाम को 3 बजकर 45 मिनट पर तैरना शुरू किया था, इसके बाद 4 बजकर 30 मिनट पर मेन रोड पर पहुंचे। यहां छह सदस्यीय टीम उसका इंतजार कर रही थी। इसके बाद सभी ने बेंगलुरु के लिए रात में ट्रेन पकड़ी। निशान की जीत और उसकी कोशिश ने इस इवेंट को स्पेशल बना दिया।"

12 दिन में 42 की मौत

कर्नाटक के 30 जिलों में से 17 बारिश और बाढ़ में प्रभावित हैं। 1 अगस्त से अब तक 42 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि 14 लापता हैं। सेना और एनडीआरएफ ने राज्य में 5 लाख 81 हजार लोगों को सुरक्षित निकाला। सरकार ने बाढ़ पीड़ितों के लिए 1168 राहत शिविर बनाए हैं।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
बॉक्सर निशान मनोहर कदम।

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/belagavi-boxer-nishan-manohar-kadam-swims-2-5km-to-attend-event-in-bengaluru-wins-silver-01616441.html

राहुल ने कहा- कश्मीर के हालात खराब, राज्यपाल बोले- हेलिकॉप्टर भेजूंगा, खुद आकर देख लें


श्रीनगर. जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने सोमवार को कांग्रेस नेता राहुल गांधी पर निशाना साधा। उन्होंने कहा- वे जल्द ही राहुल गांधी के लिए एयरक्राफ्ट भेजेंगे ताकि वे कश्मीर आकर मैदानी हालात देख सकें। इससे पहलेशनिवार कोराहुल गांधी ने कहा था किघाटी में कुछ हिंसक घटनाएं होने की खबरें आ रही हैं। प्रधानमंत्री को चाहिए कि वे इस मामले को पूरी शांति औरपारदर्शिता के साथ देखें। इसे लेकर बढ़ रहे असंतोष कोखत्म करें।

इस पर राज्यपाल ने कहा- राहुल को इस बात पर शर्म आना चाहिए कि उनका एक नेता संसद में कश्मीर मामले पर बेवकूफी भरी बातें कर रहा था। उन्होंने कहा- मैंने राहुल गांधी को घाटी आने के लिए आमंत्रित किया है। मैंने उनसेकहा है कि आप यहां आइए। मैं आपके लिए प्लेन भेजूंगा। यहां के हालात देखिए। इसके बाद कुछ बोलिए। आप एक जिम्मेदार व्यक्ति हैं। आपको ऐसी बातें नहीं करना चाहिए।

अनुच्छेद 370 हटाने में कोई सांप्रदायिक एंगल नहीं: राज्यपाल
दरअसल, मलिक से कुछ नेताओं के बयानों और मीडिया रिपोर्ट्स में घाटी में हिंसक घटनाओं के जिक्र होने को लेकर सवाल किया गया था। इस पर मलिक ने कहा- अनुच्छेद 370 और अनुच्छेद 35-ए को हटाना हर किसी के लिए था। इसमें कोई सांप्रदायिक एंगल नहीं है। लेह, करगिल, जम्मू, राजौरी-पुंछ बल्कि कश्मीर में भी, कोई सांप्रदायिक एंगल नहीं है।

हमने विदेशी मीडिया को भी चेतावनी दी: राज्यपाल

मलिक ने कहा- कुछ लोगों ने माहौल बिगाड़ने की कोशिश की थी मगर वे लोग इसमें सफल नहीं हो पाए। विदेशी मीडिया ने भी ऐसी कोशिशें कीं लेकिन हमने उन्हें भी चेतावनी दी। सभी अस्पताल आपके लिए खुले हैं। यदि किसी एक को भी गोली लगी है तो साबित कीजिए। केवल चार लोगों को पैलेट गन से पैर में चोट लगी है जब वो लोग हिंसा भड़का रहे थे। उनकी चोटें भी गंभीर नहीं हैं।

DBApp



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
राज्यपाल सत्यपाल मलिक। -फाइल फोटो

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/jammu-and-kashmir-governor-satya-pal-malik-says-i-will-send-aircraft-for-rahul-gandhi-to-01616701.html

आखिरी वक्त में भी बेटे का हाथ थामे रही मां, देखकर भावुक हुए बचावकर्मी


कोट्‌टाकुन्नु.केरल के मलप्पुरम जिले के पर्वतीय इलाके कोट्‌टाकुन्नु में शुक्रवार को हुए भूस्खलन में एक ही परिवार के तीन लोगों की मौत हो गई। मलबे से 21 साल की गीतू और उसके डेढ़ साल के बेटे ध्रुव का शव रविवार को निकाला गया। दोनों एक दूसरे का हाथ थामे हुए थे। यह दृश्य देखकर बचावकर्मी भावुक हो गए। स्थानीय मीडिया के मुताबिक, दोनों इतनी जोर से हाथ पकड़े हुए थे कि उन्हें अलग करने में मुश्किल हुई।

यह परिवार कोट्टाकुन्नु में किराए से रहता था। भूस्खलन में परिवार का मुखिया सरथ बच गया। बचावकर्मियों ने शनिवार सेतलाशी अभियान चलाया था। मां-बेटेका शव कीचड़ और पत्थरों के नीचे दबा मिला।

इस हादसे का वीडियोवायरल हुआ था

राज्य में अब तक 76 लोगों की मौत

  • केरल में लगातार दूसरे साल बारिश और भूस्खलन से तबाही हुई है। राज्य के 8 जिले भीषण बाढ़ की चपेट में हैं। 8 अगस्तसे अब तक 76 लोगों की मौत हो चुकी है। मलप्पुरम और वायनाड जिले में भूस्खलन के मलबे में 57 लोग के दबे होने की आशंका है। बाढ़ प्रभावित इलाकों से ढाई लाख से ज्यादा लोगों को विस्थापित कर 1640 राहत शिविरों में रखा गया है। पिछले साल बाढ़ में 400 लोगों की जान चली गई थी।
  • कई हिस्सों में बारिश का पानी घटने लगा है। मलप्पुरम तथा वायनाड में भूस्खलन से प्रभावित कवलप्परा, पुथुमाला और कोट्‌टाकुन्नु इलाकों में तलाश अभियान अब भी जारी है। ऐसा बताया जा रहा है कि मरने वालों का आंकड़ा बढ़ सकता है।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
प्रतीकात्मक फोटो।
केरल के मलप्पुरम में बाढ़ से जलमग्न गांव।

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/mother-held-infant-son-s-hand-tight-even-in-death-in-flood-hit-kerala-01616537.html

15 अगस्त से नए रूट पर उड़ान भरेगी एयर इंडिया की दिल्ली-सैन फ्रांसिस्को फ्लाइट


मुंबई। एयर इंडिया 15 अगस्त से दिल्ली-सैन फ्रांसिस्को फ्लाइट नए रूट पर शुरू करने जा रहीहै। एयर इंडिया के प्रवक्ता के मुताबिक- इससे यात्रा में लगने वाला समय 1 से डेढ़ घंटा कम हो जाएगा। हर फ्लाइट में 2 से 7 हजार किलोग्राम ईंधन की बचत होगी।

नए रूट पर लगेंगे 13 घंटे: एयर इंडिया

प्रवक्ता ने बताया- पहले इस सफर को पूरा करने में 14.5 घंटे का समय लगता था। नए रूट से यह सफर केवल 13 घंटे में पूरा हो जाएगा। एयर इंडिया हर दिन दिल्ली से सैन फ्रांसिस्को के लिए फ्लाइट संचालित करतीहै। फिलहाल भारत और नॉर्थ अमेरिका की ओर जाने वाली फ्लाइट्स अटलांटिक और पेसिफिक रूट से होकर गुजरती है।

पर्यावरण को लाभ होगा: एयरलाइन

एयरलाइन ने कहा- भारत और नॉर्थ अमेरिका के बीच मौजूद इस मार्ग का इस्तेमाल अभी तक नहीं हो पाया था। नॉर्थ पोलर रीजन के उपयोग से कॉमर्शियल एयर ऑपरेशन में भी फायदा मिलेगा। पर्यावरण में कम से कम कार्बन उत्सर्जन होगा। पर्यावरण को फायदा पहुंचेगा।

यात्रियों का समय बचेगा: प्रवक्ता

उन्होंने बताया कि 15 अगस्त को पहली फ्लाइट पोलर रीजन के ऊपर से उड़ान भरेगी। इसे कैप्टन रजनीश शर्मा और कैप्टन दिग्विजय सिंह उड़ाएंगे। बोइंग 777 में पहली बार में 300 यात्री सफर करेंगे। यात्रियों का समय बचेगा जबकि एयरलाइन का ईंधन।

DBApp



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
Aviation: Air India to operate Delhi-San Francisco flight over Polar region on Aug 15

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/air-india-will-start-delhi-san-francisco-flight-over-polar-region-on-aug-15-01616683.html

मिट्‌टी और शिरामिक से बने बच्चियों के चेहरों पर उकेरी कन्या भ्रूण की तकलीफ


भुवनेश्वर. ओडिशा की कलाकार बिश्वजीत मोहराणा कन्या भ्रूण हत्या के खिलाफ लोगों को जागरुक कर रही हैं। वे मिट्‌टी और शिरामिक से नवजात बच्चियों के चेहरे बनातीं हैं। फिर उन पर रंगों सेभ्रूण को हुई तकलीफों को उकेरती हैं।इनका दावा है किकलाकृतियां लोगों पर मनोवैज्ञानिक और भावनात्मक असर छोड़ती हैं।इसलिए मैंने इस माध्यम को चुना।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
ceramic and clay figures, some broken and some glazed, Odia artist Biswajita Moharana sculpts
कलाकृतियां।
ceramic and clay figures, some broken and some glazed, Odia artist Biswajita Moharana sculpts
ceramic and clay figures, some broken and some glazed, Odia artist Biswajita Moharana sculpts

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/odia-artist-biswajita-moharana-sculpts-figures-of-wounded-baby-girls-and-foetuses-01616363.html

फायरिंग की खबरों पर प्रधान सचिव ने कहा- सुरक्षाबलों ने एक भी गोली नहीं चलाई, किसी की जान नहीं गई


श्रीनगर. जम्मू-कश्मीर के प्रधान सचिव रोहित कंसल ने सोमवार को उन रिपोर्ट्स को खारिज कर दिया है, जिसमें कहा जा रहा था कि सुरक्षाबलों की फायरिंग में लोगों की जान गई। कंसल ने कहा कि मैं ऐसी सभी रिपोर्ट्स को खारिज करता हूं। सुरक्षाबलों ने एक भी गोली नहीं चलाई और किसी की जान नहीं गई है। उन्होंने कहा किहमने राज्य में माहौल को शांतिपूर्ण रखने के लिए सभी जरूरी कदम उठाए। इसका नतीजा यह रहा कि ईद शांतिपूर्ण ढंग से मनाई गई।

इससे पहले गृह मंत्रालय ने कहा कि श्रीनगर और शोपियां में सभी प्रमुख मस्जिदों में लोग अच्छी खासी तादाद में घरों से निकले। जम्मू की ईदगाह में करीब 4500 लोग इकट्ठा हुए। वहीं अनंतनाग, बारामूला, बड़गाम, बांदीपोरा में भी किसी तरह की अप्रिय घटना नहीं हुई। बारामूला की जामा मस्जिद में करीब 10 हजार लोग नमाज अदा करने पहुंचे।

पिछले एक हफ्ते में नहीं हुई कोई बड़ी घटना

केंद्र सरकार ने जम्मू-कश्मीर को विशेष दर्जा देने वालेअनुच्छेद 370 को 7 अगस्त को निष्प्रभावी कर दिया था। एक दिन पहले ही गृह मंत्रालय की तरफ से कहा गया था कि श्रीनगर और बारामूला में कुछ छोटे-मोटे विरोध प्रदर्शन हुए, लेकिन किसी भी प्रदर्शन में 20 से ज्यादा लोग शामिल नहीं थे। जम्मू-कश्मीर पुलिस ने भी ट्वीट कर राज्य हालात शांतिपूर्ण होने का दावा किया था।

इंटरनेट-फोन बंद; 300 फोन बूथ बनाए
घाटी में मोबाइल फोन, लैंडलाइन औरइंटरनेट पूरी तरह बंद है। इसलिए प्रशासन ने घाटी में 300 टेलीफोन बूथ बनाए हैं। रविवार को इन बूथों पर लंबी लाइनें लगीं। बकरीद मनाने में लाेगाें को कोई दिक्कत न हो, इसके लिए रविवार काे भी कुछ बैंक खुले रखे गए थे।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
Eid Adha Mubarak: Kashmir Eid News; Jammu And Kashmir Special Report On Eid Al Adha Celebration After Article 370 Repeal
Eid Adha Mubarak: Kashmir Eid News; Jammu And Kashmir Special Report On Eid Al Adha Celebration After Article 370 Repeal
Eid Adha Mubarak: Kashmir Eid News; Jammu And Kashmir Special Report On Eid Al Adha Celebration After Article 370 Repeal
Eid Adha Mubarak: Kashmir Eid News; Jammu And Kashmir Special Report On Eid Al Adha Celebration After Article 370 Repeal

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/jammu-and-kashmir-on-eid-ul-adha-security-restrictions-after-article-370-news-and-updates-01616027.html

तटरक्षक जहाज में आग लगी; 29 क्रू मेंबर जान बचाने के लिए समुद्र में कूदे, एक लापता


विशाखापट्टनम. तटरक्षक जहाज जगुआर में सोमवार सुबह आग लग गई। जान बचाने के लिए शिप पर सवार 29 क्रू मेंबर पानी में कूद गए। भारतीय तट रक्षक बल ने 28 क्रू मेंबर्स को बचा लिया है, लेकिन एक अभी लापता है। उसकी तलाश की जा रही है। आग लगने की वजह का अभी पता नहीं चल पाया है।

तटरक्षक बल ने बताया- सुबह 11.30 बजे के आसपास जहाज पर जोरदार धमाका हुआ और इसके बाद धुआं निकलने लगा। जान बचाने के लिए क्रू मेंबर्स को पानी में कूदना पड़ा। तटरक्षक बल का एक अन्य जहाज रानी राशमोनी उसी इलाके में गश्त पर था। इस जहाज को बचाव अभियान के लिए घटनास्थल पर भेजा गया। लापता एक क्रू मेंबर की तलाश के लिए समुद्र पहरेदार और सी-432 जहाज के अलावा तटरक्षक बल हेलिकॉप्टर को अभियान में लगाया गया है।

DBApp



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
Major Fire on Coast Guard Ship Fire On Coast Guard's Offshore Support Vessel Coastal Jaguar at Visakhapatnam Latest

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/major-fire-on-coast-guard-ship-offshore-support-vessel-coastal-jaguar-at-visakhapatnam-la-01616403.html

चीन के विदेश मंत्री से मिले जयशंकर, कहा- आपसी मतभेद कभी विवाद का कारण नहीं बनना चाहिए


बीजिंग.विदेश मंत्री सुब्रमण्यम जयशंकर ने सोमवार को चीन के विदेश मंत्री वांग यी से बीजिंग मेंमुलाकात की। जयशंकर ने कहा कि दोनों देशों के बीच कोई भी आपसी मतभेद हो, लेकिन वह विवाद का कारण नहीं बनना चाहिए। भारत चीन के साथ कारोबार रिश्ते मजबूत करने और कल्चरल एक्सचेंज पर जोर देगा। इससे पहले जयशंकर उपराष्ट्रपति वांग किशान से उनके आवास पर मिले थे। वे चीन केतीन दिवसीय दौरे पर हैं।

साझा प्रेस कॉन्फ्रेंस मेंजयशंकर ने कहा, ‘‘पिछले साल हुई बैठक में हमने कल्चरल एक्सचेंज के लिए 10 बिंदुओं पर चर्चा की थी। इस बार भी इन्हीं बिंदुओं पर बात की। हम 100 अलग-अलग गतिविधियोंके जरिए इसे बढ़ावा देंगे। आने वाले कुछ महीने में म्यूजियम मैनेजमेंट, थिंक टैंक और एजुकेशनल कॉन्फ्रेंस के जरिए कल्चरल एक्सचेंज पर जोर देंगे। साथ में कारोबारी रिश्तों को मजबूती देने के लिए भी नए मौकों की तलाश कर रहे हैं। हमने चिकित्सा के क्षेत्र में पारंपरिक मेडिसिन का प्रचार और अंतरराष्ट्रीय स्पोर्ट्स के लिए प्लेयर एक्सचेंज प्रोग्राम समेत 4 एमओयू साइन किए हैं।’’

वांग यी बोले- विदेश मंत्री बनने के बाद जयशंकर का पहला दौरा
वांग यी ने कहा, ‘‘जयशंकर चीन में भारत के राजदूत के तौर पर कई सालों तक काम कर चुके हैं। उन्होंने सक्रिय तौर पर भारत और चीन के बीच सकारात्मक रिश्तों के लिए योगदान दिया है। यह विदेश मंत्री के तौर पर उनका पहला चीन दौरा है। मैं उनका स्वागत करता हूं। अब हमें यह भी देखना होगा कि अर्थव्यवस्था और व्यापार सहयोग के लिए किस चीज की सबसे ज्यादा जरूरत है। इस समय हमें निवेश, उद्योग, उत्पादन, पर्यटन, बॉर्डर व्यापार जैसे अन्य क्षेत्रों के लिए और भी ज्यादा सोचने की जरूरत है।’’

जयशंकर बोले- यहां आकर खुश हूं
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और चीनी राष्ट्रपति शी के बीच हुई शिखर वार्ता का जिक्र करते हुए जयशंकर ने कहा, ‘‘वुहान शिखर सम्मेलन में वैश्विक और क्षेत्रीय मुद्दों पर हमारे नेताओं के बीच आम सहमति और व्यापक हुई थी। सम्मेलन के बाद यहां आकर में बहुत खुश हूं।’’जयशंकर 2009 से 2013 के बीच चीन में भारत के राजदूत रहे थे। चीन में यह किसी भारतीय राजदूत का सबसे लंबा कार्यकाल था।

जयशंकर ने कहा, ‘‘हम दोनों देशों के बीच रिश्तों को मजबूत करने के लिए 100 एक्टिविटीज करेंगे। चीन ने कैलाश मानसरोवर यात्रा को लेकर कुछ सुझाव दिए हैं। यात्रा को लेकर कई विकासशील कार्य भी किए जाएंगे। हम चीन के इस फैसले की सराहना करते हैं।’’

साल के अंत में भारत आएंगे चीन के राष्ट्रपति
दूसरी बार मोदी सरकार बनने के बाद विदेश मंत्री का यह पहला चीन दौरा है। शी जिनपिंग साल के आखिर में भारत दौरे पर आएंगे। सूत्रों की मानें तो इस दौरान जम्मू-कश्मीर, लद्दाख और अनुच्छेद 370 पर भी बात हो सकती है। भारत सरकार ने 5 अगस्त को ही अनुच्छेद 370 खत्म कर जम्मू-कश्मीर और लद्दाख को दो अलग-अलग केंद्र शासित प्रदेश बनाया है।

DBApp



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
20 अगस्त को चंद्रमा की कक्षा में पहुंचेगा चंद्रयान-2, 18 दिन बाद चांद के दक्षिणी ध्रुव की सतह पर होगा

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/s-jaishankar-china-beijing-meeting-news-updates-with-wang-yi-s-jaishankar-on-india-china-01616379.html

सऊदी अरामको रिलायंस के रिफाइनरी-केमिकल बिजनेस में 20% शेयर 1 लाख करोड़ रु. में खरीदेगी


मुंबई. रिलायंस इंडस्ट्रीज के ऑयल रिफाइनरी और केमिकल बिजनेस में सऊदी अरामको 15 अरब डॉलर (1.06 लाख करोड़ रुपए) में 20% हिस्सेदारी खरीदेगी। यह रिलायंस में अब तक का सबसे बड़ा विदेशी निवेश होगा। यह देश के बड़े विदेशी निवेशों में भी शामिल होगा। इस डील का एग्रीमेंट 75 अरब डॉलर (5 लाख 32 हजार 466 करोड़ रुपए) के वैल्यूएशन पर हुआ है। रिलायंस के चेयरमैन और एमडी मुकेश अंबानी ने कंपनी की 42वीं एजीएम में सोमवार को यह जानकारी दी।

रिलायंस ने बताया कि अरामको से डील पूरी करने के लिए रेग्युलेटरी और अन्य मंजूरियां लेनी होंगी। डील के तहत अरामको जामनगर (गुजरात) स्थित रिलायंस की दो रिफाइनरियों को प्रतिदिन 7 लाख बैरल क्रूड सप्लाई करेगी। अरामको सऊदी अरब की सरकारी तेल कंपनी है। यह दुनिया की सबसे बड़ी तेल उत्पादक कंपनी भी है।

5 साल में पेट्रोल पंप की संख्या 5500 करने का लक्ष्य

रिलायंस फ्यूल रिटेल बिजनेस में भी 49% हिस्सेदारी यूके की फर्म बीपी को 7,000 करोड़ रुपए में बेचेगी। दोनों कंपनियों ने पिछले हफ्ते पेट्रोल पंप और एविएशन फ्यूल के लिए ज्वाइंट वेंचर का ऐलान भी किया था। रिलायंस देशभर में 1,400 पेट्रोल पंप और 31 एविएशन फ्यूल स्टेशन का संचालन करती है। अब ये बीपी के साथ ज्वाइंट वेंचर के तहत ऑपरेट किए जाएंगे। दोनों कंपनियों का लक्ष्य है कि अगले 5 साल में पेट्रोल पंप की संख्या बढ़ाकर 5,500 की जाए।

18 महीने में रिलायंस को कर्ज मुक्त बनाने का लक्ष्य: मुकेश अंबानी

अरामको और बीपी के साथ डील से मिलने वाली रकम से रिलायंस को कर्ज कम करने में मदद मिलेगी। रिलायंस समूह पर 1 लाख 54 हजार 478 करोड़ रुपए का कर्जहै। एजीएम में मुकेश अंबानी ने कहा कि 18 महीने में रिलायंस को कर्ज मुक्त कंपनी बनाने का लक्ष्य है।

DBApp



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी पत्नी नीता के साथ।
मुकेश अंबानी के बेटे आकाश पत्नी श्लोका के साथ।

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/saudi-aramco-ril-reliance-deal-aramco-to-acquire-20-per-cent-stake-in-reliance-industries-01616395.html

100 एमबीपीएस स्पीड के साथ जियो फाइबर 5 सितंबर को लॉन्च होगा, अगले साल से जियो पर फर्स्ट डे-फर्स्ट शो


मुंबई. रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी नेकंपनी की 42वीं एजीएम को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि 5 सितंबर को ब्रॉडबैंड सर्विस जियो गीगा फाइबर कमर्शियली लॉन्च होगी। इसका बेस प्लान 100 एमबीपीएस स्पीड के साथ मिलेगा। 700 रुपए से 10,000 रुपए तक के अलग-अलग प्लान में अधिकतम 1जीबीपीएस तक की स्पीड मिलेगी। जियो फाइबर फिक्स्ड लाइन फोन से देशभर में वॉइस कॉलिंग फ्री होगी। अगले साल से जियो पर फर्स्ट डे-फर्स्ट शो मूवीज प्लान भी लॉन्च होगा।

अंबानी ने बताया किरिलायंस ने बीते वित्त वर्ष में 67,320 करोड़ रुपए जीएसटी और 12,191 करोड़ रुपए इनकम टैक्स चुकाया।हम देश के सबसे बड़े टैक्सपेयर हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अपील परहम जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के विकास और वहां के लोगों की जरूरतों के लिए प्रतिबद्ध हैं। रिलायंस जम्मू-कश्मीर और लद्दाख में विकासात्मक गतिविधियों के लिए विशेष टास्क फोर्स बनाएगी।

जियो के ग्राहकघर बैठे सिम पोर्ट करवा सकेंगे

रिलायंस ने माइक्रोसॉफ्ट से करार किया है। इसके जरिए देशभर में डेटा सेंटर खोले जाएंगे। रिलायंस ने जियो पोस्टपेड प्लस सर्विस भी पेश की है। यह देश की पहले प्रायोरिटी होम सेटअप सर्विस होगी। इस सर्विस के जरिए ग्राहकों को घर पर ही सिम पोर्ट कराने की सुविधा मिलेगी। कंपनी 5 सितंबर को अपनी और भी कई सर्विसेज लॉन्च करेगी।

‘5 ट्रिलियन डॉलर का लक्ष्य हासिल कर सकते हैं’

  • मुकेश ने कहा कि प्रधानमंत्री ने 2024 तक 5 ट्रिलियन डॉलर इकोनॉमी का लक्ष्य रखा है, यह हासिल किया जा सकता है। कुछ सेक्टर में स्लोडाउन अस्थायी है।
  • ‘‘ऑयल और केमिकल बिजनेस के जरिए जीवन स्तर में सुधार की क्षमता रखते हैं।पेट्रोलियम रिटेलिंग बिजनेस में बीपी के साथ जॉइंट वेंचर किया है।’’
  • ‘‘रिलायंस में सऊदी अरामको 75 अरब डॉलर का निवेश करेगी।यह रिलायंस के इतिहास में सबसे बड़े विदेशी निवेश के साथ देश में भी सबसे बड़ा विदेशी निवेश होगा।’’
  • ‘‘रिलायंस पर पिछले साल के आखिर तक साल 1 लाख 54 हजार 478 करोड़ रुपए का कर्ज था। अगले 18 महीने में पूरी तरह कर्ज मुक्त कंपनी बनाने का लक्ष्य है।’’

‘जियो हर महीने एक करोड़ ग्राहक जोड़ रही’

  • मुकेश के मुताबिक- रिलायंस रिटेल देश की दूसरी बड़ी रिटेलर कंपनी से चार गुना बड़ी है। हमें उम्मीद है कि 2030 तक भारत 10 ट्रिलियन डॉलर की इकोनॉमी वाला देश होगा।
  • ‘‘इस साल 5 सितंबर को जियो के 3 साल पूरे हो रहे हैं। कंपनी को शुरू करने का विजन डिजिटिल लाइफ कनेक्टिविटी था। जियो ने भारत को डेटा शाइनिंग ब्राइट बनाया।’’
  • ‘‘जियो हर महीने एक करोड़ ग्राहक जोड़ रही है। यह न सिर्फ देश की सबसे बड़ी टेलीकॉम ऑपरेटर है, बल्कि दुनिया की दूसरी बड़ी ऑपरेटर भी है।’’
  • ‘‘जियो के जरिए रेवेन्यू के 4 नए ग्रोथ इंजन- इंटरनेट ऑफ थिंग्स, होम ब्रॉडबैंड सर्विस, एंटरप्राइजेज सर्विस और ब्रॉडबैंड फॉर स्मॉल एंड मीडियम बिजनेस पर फोकस करेंगे।’’
  • ‘इंटरनेट ऑफ थिंग्स प्लेटफॉर्म 1 जनवरी 2020 से उपलब्ध होगा। जियो गीगा फाइबर नेटवर्क को अगले 12 महीने में पूरा करने की उम्मीद है।’’
  • ‘‘जियो गीगा फाइबर ट्रायल वाले ग्राहक हर महीने 100 जीबी कंज्यूम कर रहे हैं।’’
  • ‘‘इन्फ्रास्ट्रक्चर और ऑप्टिक फाइबर में जियो ने अब तक 3.5 लाख करोड़ रुपए निवेश किए।’’

‘जियो गीगाफाइबर से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग कर सकते हैं’

  • मुकेश के बेटे आकाश अंबानी ने कहा कि 10 करोड़ यूजर हर महीने जियो के जरिए वीडियो कॉलिंग करते हैं। जियो गीगाफाइबर के जरिए ग्राहक वीडियो कॉन्फ्रेसिंग कर सकते हैं।जियो फाइबर प्लान 700 से 10,000 रुपए प्रति महीने में उपलब्ध होगा।
  • ‘जियो गीगाफाइबर अपने तरह की पहली होम वीडियो कॉलिंग सर्विस है।’ केबल टीवी के लिए जियो सेट टॉप बॉक्स लॉन्च किया गया।
  • मुकेश की बेटी ईशा अंबानी ने कहा, ‘‘इसमें गेमिंग और ग्राफिक्स की क्षमता दुनिया में सबसे अच्छी है।’’

15 हजार इंजीनियरों की भर्ती करेंगे

  • जियो में अभी 6 हजार इंजीनियर काम कर रहे हैं। 15 हजार इंजीनियरों की भर्ती की जाएगी। अगले 12 महीने में जियो भारत में दुनिया की सबसे बड़ी ब्लॉक चेन नेटवर्क 1000 नोड्स पर स्थापित करेगी। ये पेमेंट गेटवे के लिए होगी।माइक्रोसॉफ्ट के साथ मिलकर वर्ल्ड क्लास डेटा सेंटर स्थापित करेंगे।
  • स्टार्टअप के लिए क्लाउड सर्विस का खर्च फ्री रहेगा। यह सर्विस 1 जनवरी 2020 से उपलब्ध होगी।
  • माइक्रो, स्मॉल और मीडियम बिजनेस कनेक्टिविटी, प्रोडक्टिविटी और ऑटोमेशन सर्विसेज के लिए अभी 15,000 से 20,000 रुपए दे रहे हैं। इन सर्विसेज के लिए हमारा प्लान 1,500 रुपए प्रति महीने से शुरू होगा।
  • माइक्रो, स्मॉल और मीडियम बिजनेस कनेक्टिविटी, प्रोडक्टिविटी और ऑटोमेशन सर्विसेज के लिए अभी 15,000 से 20,000 रुपए दे रहे हैं। इन सर्विसेज के लिए हमारा प्लान 1,500 रुपए प्रति महीने से शुरू होगा।
  • जियो फाइबर ग्राहकों को फॉरएवर एनुअल प्लान के साथ एचडी/4के एलईडी टीवी और सेट टॉप बॉक्स फ्री मिलेगा।

क्या है जियो गीगाफाइबर ?
इसके तहत देशभर के छोटे-बड़े 1100 शहरों को जोड़ा जाएगा। इस ब्रॉडबैंड सर्विस के तहत राउटर, सेट टॉप बॉक्स और स्मार्ट होम सॉल्यूशंस की फैसिलिटी मिलेगी। इससे घर पूरी तरह हाईटेक और स्मार्ट बन जाएगा। इसकी मदद से ग्राहक पूरे घर को कंट्रोल कर सकेंगे। जियो गीगा टीवी के जरिए ग्राहक वीडियो कॉलिंग भी कर सकेंगे। कंपनी के दावों के मुताबिक, इस पर दुनिया का बेस्ट एजुकेशनल कंटेंट मिलेगा। बच्चे टीचर की मदद के बिना भी पढ़ सकेंगे। इसके जरिए डॉक्टर दूर बैठकर मरीजों का इलाज कर सकेंगे।

DBApp



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
मां कोकिला बेन और पत्नी नीता के साथ मुकेश अंबानी।
Mukesh Ambani, RIL Reliance AGM Meeting Announcement Updates; Mukesh Ambani Reliance 42nd AGM Meeting News

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/ril-reliance-agm-meeting-mukesh-ambani-announcement-live-news-updates-reliance-industries-01616059.html

20 अगस्त को चंद्रमा की कक्षा में पहुंचेगा चंद्रयान-2, इसके 18 दिन बाद चांद के दक्षिणी ध्रुव की सतह पर उतरेगा


नेशनल डेस्क. मून मिशन पर गया भारत का 'चंद्रयान-2' जल्द ही चंद्रमा की कक्षा में पहुंचने वाला है। इस बात की जानकारी भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संस्थान (इसरो) के अध्यक्ष डॉ के. सिवन ने सोमवार (12 अगस्त) को दी। उन्होंने बताया कि दो दिन बाद 'चंद्रयान-2' पृथ्वी की कक्षा से बाहर चला जाएगा और हफ्तेभर बाद 20 अगस्त को चंद्रमा की कक्षा में पहुंच जाएगा। सिवान के मुताबिक चांद की कक्षा में घुसने के करीब 18 दिन बाद यानी 7 सितंबर को वो चांद की सतह पर उतर जाएगा। सिवन ने ये बातें अहमदाबाद में कहीं, जहां वे भारतीय अंतरिक्ष कार्यक्रम के जनक डॉ विक्रम साराभाई के जन्मदिन के उपलक्ष्य में आयोजित कार्यक्रम में हिस्सा लेने आए थे।

  • मीडिया से बातचीत के दौरान सिवन ने बताया कि लॉन्चिंग के बाद से लेकर चंद्रयान-2 अबतक 5 बार पृथ्वी की कक्षा बदल चुका है और फिलहाल पृथ्वी के आसपास चक्कर लगा रहा है। उनके मुताबिक चंद्रयान-2 की स्थिति में अगला और बेहद महत्वपूर्ण बदलाव बुधवार सुबह होगा।
  • सिवन ने कहा, '14 अगस्त की सुबह करीब 3.30 बजे हमें एक महत्वपूर्ण बदलाव दिखेगा, जिसे ट्रांस-ल्यूनर इंजेक्शन कहा जाता है। इस दौरान चंद्रयान-2 पृथ्वी की कक्षा छोड़कर अपने लक्ष्य चंद्रमा की ओर आगे बढ़ जाएगा। 20 अगस्त को हम चांद पर होंगे।'
  • आगे उन्होंने बताया 'फिर हम चंद्रमा की कक्षा में प्रवेश करेंगे, इस प्रक्रिया के जरिए चंद्रयान-2 20 अगस्त तक चांद के पास पहुंचेगा। इसके बाद अंतरिक्षयान स्थिति परिवर्तन के कई दौर से गुजरेगा, और आखिरकार 7 सितंबर को चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव के करीब उसकी लैंडिंग होगी।'

22 जुलाई को मिशन पर निकला था चंद्रयान

चंद्रयान-2 को भारत ने 22 जुलाई को अपने सबसे ताकतवर जीएसएलवी मार्क-III रॉकेट के जरिए श्रीहरिकोटा से लॉन्च किया था। इस बेहद महत्वाकाक्षी मिशन पर गए इस रॉकेट में तीन मॉड्यूल ऑर्बिटर, लैंडर (विक्रम) और रोवर (प्रज्ञान) हैं। इस यानका वजन 3,850 किलो है औरयह चंद्रयान-1 मिशन (1380 किलो) से करीब तीन गुना ज्यादा है।इस मिशन के जरिए इसरोचांद के दक्षिणी ध्रुव पर पहुंचना चाहता है।

चंद्रयान-1 से कितना अलग है चंद्रयान-2?

चंद्रयान-2 वास्तव में चंद्रयान-1 मिशन का ही नया संस्करण है। इसमें ऑर्बिटर, लैंडर (विक्रम) और रोवर (प्रज्ञान) शामिल हैं। चंद्रयान-1 में सिर्फ ऑर्बिटर था, जो चंद्रमा की कक्षा में घूमता था। चंद्रयान-2 के जरिए भारत पहली बार चांद की सतह पर लैंडर उतारेगा। यह लैंडिंग चांद के दक्षिणी ध्रुव पर होगी। इसके साथ ही भारत चांद के दक्षिणी ध्रुव पर यान उतारने वाला पहला देश बन जाएगा।

इसरो ने दिखाई थीं चंद्रयान-2 से मिली तस्वीरें

इसरो ने 4 अगस्त को चंद्रयान-2 से खींची गई पृथ्वी की कुछ फोटो रिलीज की थीं। अंतरिक्ष में पृथ्वी की बाहरी कक्षा से खींची गई इन फोटोज को चंद्रयान-2 के विक्रम लैंडर में लगे एलआई-4 कैमरे से 3 अगस्त को शाम 5:28 से 5:37 बजे के बीच खींचा गया। इसरो ने ट्वीट में इन्हें चंद्रयान-2 द्वारा खींची पहली तस्वीरों का सेट बताया था।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
Chandrayaan 2, ISRO Moon Mission News Updates: Chandrayaan 2 is Expected to Reach Moon Orbit August 20

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/chandrayaan-2-is-expected-to-reach-moon-orbit-august-20-isro-moon-mission-news-updates-01616583.html

सोने का भाव 50 रुपए बढ़कर 38470 रु प्रति 10 ग्राम के रिकॉर्ड स्तर पर पहुंचा


नई दिल्ली. सोने का भाव सोमवार को 50 की रुपए की तेजी के साथ 38470 रुपए प्रति 10 ग्राम के रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच गया। दिल्ली सर्राफा बाजार में 99.9% शुद्धता वाले सोने का इतना पहुंच गया। 99.5% शुद्ध सोने के रेट में भी 50 रुपए की तेजी आई। यह 38,300 रुपए हो गया। ऑल इंडिया सर्राफा एसोसिएशन के मुताबिक अंतरराष्ट्रीय बाजार में तेजी और स्थानीय ज्वेलर्स की ओर से खरीदारी की वजह से सोने के रेट बढ़े।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
Gold Price Rate Today | Gold Rate Latest News Updates; Gold hits all-time high, Rs 38,470 Per Tola on jewellers' buying

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/gold-price-rate-today-gold-hits-all-time-high-rs-38-470-per-tola-on-jewellers-buying-01616547.html

केरल और कर्नाटक में बाढ़-भूस्खलन से 118 मौतें, उत्तराखंड के चमोली में बादल फटने से 6 की जान गई


तिरुवनंतपुरम/देहरादून.केरल में लगातार दूसरे सालबारिश और भूस्खलन से तबाही हुई है। राज्य के 8 जिले भीषण बाढ़ की चपेट में हैं। 8 अगस्त के बाद से अब तक 76 लोगों की मौत हो चुकी है। मलप्पुरम और वायनाड जिले में भूस्खलन के मलबे में 57 लोग के दबे होने की आशंका है। बाढ़ प्रभावित इलाकों से ढाई लाख से ज्यादा लोगों को विस्थापित कर 1640 राहत शिविरों में रखा गया है। पिछले साल बाढ़ में 400 लोगों की जान चली गई थी। दूसरी ओर, कर्नाटक के 17 जिले भी बाढ़ की चपेट में हैं। यहां बीते 12 दिन में 42लोगों की जान गई, जबकि 14 लोग लापता हैं।


दूसरी ओर, उत्तराखंड के चमोली जिले के दो गांवों में सोमवार सुबह बादल फटा। इससे तीन घर मलबे की चपेट में आ गए। इस दौरान एक महिला और उसकी 9 महीने की बच्ची समेत छह लोगों की मौत हो गई। विकास खंड घाट इलाके में भारी बारिश के बाद एक घर भी ढहकर नदी में समा गया। मौसम विभाग ने राज्य के सात जिले- चमोली, रुद्रप्रयाग, बागेश्वर, पिथौड़ागढ़, देहरादून, नैनीताल और पौड़ी औरकर्नाटक केबाढ़ प्रभावित बेलगावी में 13 से 16 अगस्त तक बहुत भारी बारिश की चेतावनी जारी की है।

केरल में बारिश के बाद 100 जगहों पर भूस्खलन

मुख्यमंत्री पिनरई विजयन ने बताया कि 8 अगस्त से लगातार जारी बारिश और बाढ़ में 76लोग जान गंवा चुके हैं। राज्य में 2500 से ज्यादा घर पूरी तरह बर्बाद हो गए। भारी बारिश के चलते करीब 100 जगहों पर भूस्खलन की घटनाएं हुईं। रविवार शाम तक मलप्पुरम में 23, कोझिकोड में 17 और वायनाड में 12 और शव बरामद हुए। पलक्कड़ जिले के करीब 10 आदिवासी इलाके का संपर्क टूटने से सैकड़ों लोग बाढ़ में फंसे हुए हैं। केरल में रेलवे ट्रैक पर पेड़ और चट्टान गिरने की वजह से ट्रैफिक पर असर पड़ा है।

निलांबुर और पुथुमालामें 57लोग मलबे में दबे
कांग्रेस नेता राहुल गांधी बाढ़ का जायजा लेने के लिए अपने संसदीय क्षेत्र वायनाड पहुंचे हैं। रविवार को उन्होंने मलप्पुरम के निलांबुर का दौरा किया। यहां 8 अगस्त भूस्खलन के बाद 35 घर दब गए। एनडीआरएफ रेस्क्यू ऑपरेशन चला रही है। निलांबुर में अब तक 11 लोगों के शव मलबे से निकाले गए हैं। अधिकारियों के मुताबिक, 50 लोगों के मलबे में दबे होने की आशंका है। वायनाड जिले के पुथुमाला में भी भूस्खलन से 10 लोगों की मौत हुई। यहां 7 लोग लापता हैं।


कर्नाटक में बाढ़ से 12 दिन में 42 की जान गई
दूसरी ओर, कर्नाटक के 17 जिले बारिश और बाढ़ में सबसे ज्यादा प्रभावित हुए। 1 अगस्त से अब तक 42 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि 14 लापता हैं। सेना और एनडीआरएफ ने राज्य में 5 लाख 81 हजार लोगों को सुरक्षित निकाला। सरकार ने बाढ़ पीड़ितों के लिए 1168 राहत शिविर बनाए हैं। रविवार को केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने बेलगावी में बाढ़ प्रभावित इलाकों का हवाई सर्वेक्षण किया। कर्नाटक सरकार ने मृतकों के परिजन को 5 लाख रु. के मुआवजे का ऐलान किया है। मुख्यमंत्रीयेदियुरप्पा ने बाढ़ को राज्य में 45 साल की सबसे बड़ी आपदा बताया है। उन्होंनेकेंद्र से 3 हजार करोड़ रु. की मदद मांग की।

दक्षिण भारत में भारी बारिश क्यों हो रही है?
पश्चिम प्रशांत महासागर क्षेत्र में उठे दो तूफानों लेकिमा और क्रोसा के कारण देश के दक्षिणी राज्यों में भारी बारिश हो रही है। मौसम वैज्ञानिकों ने यह दावा किया है। उनका कहना है कि पहले पश्चिम प्रशांत महासागर का भारतीय क्षेत्रों पर प्रभाव सीमित था। अब यह हिंद महासागर को डंप यार्ड के तौर पर इस्तेमाल करने लगा है। इसी का असर केरल, कर्नाटक और तमिलनाडु में भारी बारिश के रूप में दिख रहा है।

DBApp



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
केरल के मलप्पुरम में बाढ़ से हालात खराब।
Kerala Karnataka Flood-landslides News Updates; Kerala, Karnataka Monsoon Rains bring severe flooding landslides
Kerala Karnataka Flood-landslides News Updates; Kerala, Karnataka Monsoon Rains bring severe flooding landslides

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/kerala-floods-many-people-reported-missing-latest-updates-01616019.html

लद्दाख के पास स्कर्दू एयरबेस पर पाक ने लड़ाकू विमानों की तैनाती की, भारत ने कहा- हरकतों पर पैनी नजर


नई दिल्ली.जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 को निष्प्रभावी किए जाने से पाकिस्तान बौखलाहट मेंकई भारत विरोधी कदम उठा रहा है। खुफिया रिपोर्ट के मुताबिक, पाकिस्तान ने लद्दाख के पास अपने स्कर्दू पर लड़ाकू विमानों की तैनाती कर रहा है। शनिवार को उसने तीन सी-130 ट्रांसपोर्ट एयरक्राफ्ट यहां भेजे थे। इनमें फाइटर एयरक्राफ्ट के उपकरण लाए गए। जेएफ-17 फाइटर जेट को भी स्कर्दू एयरफील्ड में तैनात किया जा सकता है। भारत सरकार के सूत्रों ने कहा कि हम पाक की हरकतों पर बारीकी से नजर रख रहेहैं।

खुफिया विभाग ने वायुसेना और सेना को विमानों की तैनाती के बारे में अलर्ट भेजा है। स्कर्दू पाकिस्तान का एक फॉर्वर्ड ऑपरेटिंग बेस है। वहइसका इस्तेमाल बॉर्डर पर आर्मी ऑपरेशन को सपोर्ट करने के लिए करता है। सूत्रों की मानें तो पाक वायुसेना यहां अभ्यास करने की योजना बना रही है। यही कारण है कि वह अपने विमान स्कर्दू मेंशिफ्ट कर रहीहै।

पूर्व सेना प्रमुख जिया उल हक की मौत सी-130 क्रैश में हुई थी

पाकिस्तान सी-130 ट्रांसपोर्ट एयरक्राफ्ट का पुराना वर्जन इस्तेमाल करता है। पाक ने इसे काफी समय पहले अमेरिका से खरीदा था। अगस्त 1988 को पाकिस्तान के तत्कालीन राष्ट्रपति जिया उल हक की मौत भी सी-130 क्रैश में हुई थी। तब जियाके एयरक्राफ्ट में विस्फोट हो गया था।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
India Pakistan: Pakistan Air Force PAF deploy JF-17 fighter jets, C-130 transport aircraft Ladakh Skardu
पाकिस्तान का जेएफ-17 फाइटर प्लेन। -फाइल

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/pakistan-air-force-paf-deploy-jf-17-fighter-jets-c-130-transport-aircraft-ladakh-skardu-ar-01616169.html

सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जस्टिस मदन बी लोकुर फिजी के सर्वोच्च न्यायालय में जज बने


सुवा.सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जस्टिस मदन बी लोकुर ने सोमवार को फिजी के सर्वोच्च न्यायालयमें न्यायाधीश की शपथ ली। वे फिजी में अप्रवासी पैनल का हिस्सा होंगे। उनका कार्यकाल तीन साल होगा। फिजी के राष्ट्रपति जिओजी कोनरोते ने कार्यकारी चीफ जस्टिस कमल कुमार की मौजूदगी में जस्टिस लोकुर को शपथ दिलाई। यह पहला मौका है जब कोई भारतीय जज दूसरे देश की शीर्ष अदालत में जज बना हो।

जस्टिस लोकुर ने जुलाई 1977 में वकालत शुरू की थी। उन्होंने दिल्ली हाईकोर्ट के बाद सुप्रीम कोर्ट में भी प्रैक्टिस की। वे 1981 में सुप्रीम कोर्ट में वकील और 1998 में एडिशनल सॉलिसिटर जनरल नियुक्त हुए। इसके बाद उन्होंने दिल्ली हाईकोर्ट में अतिरिक्त न्यायाधीशका कार्यभार भी संभाला। जुलाई 1999 में हाईकोर्ट के जज बनाए गए। जस्टिस लोकुर गुवाहाटी और आंध्र प्रदेश हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीशरह चुके हैं। जून 2012 में सुप्रीम कोर्ट के जज बने, पिछले साल 31 दिसंबर को सेवानिवृत्तहुए थे।

सुप्रीम कोर्ट के जजों की पहली प्रेस कॉन्फ्रेंस में शामिल थे जस्टिस लोकुर
सुप्रीम कोर्ट के चार जजों ने 12 जनवरी 2018 को पहली बार प्रेस कॉन्फ्रेंस की थी। इसमें मौजूदाचीफ जस्टिस रंजन गोगोई, जस्टिस चेलमेश्वर, जस्टिस कुरियन जोसेफ और जस्टिस मदन बी लोकुर शामिल थे। चारों ने सुप्रीम कोर्ट की कार्यप्रणाली पर सवाल उठाए थे और तत्कालीन चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा पर अप्रत्यक्ष रूप से निशाना साधा था। सुप्रीम कोर्ट के जजों का इस तरह प्रेस कॉन्फ्रेंस करना इतिहास में पहला मौका था।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
जस्टिस मदन बी लोकुर। -फाइल

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/madan-b-lokur-former-supreme-court-justice-appoints-as-judge-of-supreme-court-of-fiji-01616405.html

मुकेश अंबानी ने की जियो फाइबर सर्विस लॉन्च करने की घोषणा, सोशल मीडिया पर लोग लेने लगे मजे


नेशनल डेस्क. रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (RIL) की 42वीं वार्षिक आम बैठक (AGM) में कंपनी के सीएमडी मुकेश अंबानी ने जियो फाइबर सर्विस को लॉन्च करने का ऐलान कर दिया। इसे 5 सितंबर को जियो की तीसरी एनिवर्सरी वाले दिन लॉन्च किया जाएगा। सोमवार (12 अगस्त) को हुई वार्षिक आम बैठक में बताया गया कि इस सर्विस की अधिकतम डाउनलोडिंग स्पीड 1 जीबी प्रति सेकंड तक होगी। इसके अलावा बैठक में केबल टीवी के लिए जियो सेट टॉप बॉक्स लॉन्च करने की घोषणा भी की गई। जियो फाइबर प्लान की मंथली कीमत 700 रुपए से लेकर 10 हजार रुपए तक होगी। यूजर को सिर्फ एक सर्विस के लिए पैसे देने होंगे, जिसके बाद जियो फाइबर से जुड़ी सभी सर्विसेज फ्री मिलेंगी। AGM में हुई इन घोषणाओं के बाद सोशल मीडिया पर यूजर्स ने अन्य टेलिकॉम और DTH कंपनियों के मजे लेना शुरू कर दिए। यूजर्स ने ट्विटर पर तरह-तरह के मजेदार कमेंट्स किए और कहा कि अब बाकी कंपनियों की हालत खराब हो जाएगी। ज्यादातर लोगों को लग रहा है कि टेलिकॉम क्षेत्र में जियो के आने के बाद जिस तरह अन्य टेलिकॉम ऑपरेटर्स के बिजनेस की कमर टूट गई, उसी तरह केबल के क्षेत्र में भी जियो सेट का असर देखा जाएगा।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
रिलायंस ग्रुप के सीएमडी मुकेश अंबानी।

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/ril-reliance-agm-2019-jio-gigafiber-announcement-social-media-reaction-01616431.html

जम्मू-कश्मीर समेत पूरे देश में मनाई जा रही ईद, पीएम मोदी समेत कई हस्तियों ने दी बधाई


नेशनल डेस्क. दुनियाभर के मुस्लिम धर्मावलंबी आज सोमवार (12 अगस्त) ईदुज्जुहा (बकरा-ईद) का त्योहार मना रहे हैं। इस्लाम में इस त्योहार को कुर्बानी के पर्व के रूप में जाना जाता है। देशभर में इस त्योहार को लेकर खासा उत्साह देखा जा रहा है। इस मौके पर मुस्लिम धर्म को मानने वाले लोगों नेमस्जिदों और ईदगाह पर जाकर विशेष नमाज पढ़ी और गले लगकर एक-दूसरे को बधाई दी। अनुच्छेद 370 हटने के बाद के हालातों में जम्मू-कश्मीर में भी इस त्योहार को लेकर खासा उत्साह देखा गया और वहां कड़े सुरक्षा इंतजामों के बीच लोग घर से बाहर निकले और मस्जिदों में जाकर नमाज पढ़ी। देश के राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री समेत देश की अन्य हस्तियों ने कुर्बानी के इस त्योहार पर लोगों को बधाई दी है। लोगों को बधाई देते हुए पीएम मोदी ने लिखा, 'ईदुज्जुहा पर मेरी ओर से शुभकामनाएं। मुझे उम्मीद है कि इससे समाज में शांति और खुशहाली की भावना बढ़ेगी। ईद मुबारक।'

प्रधानमंत्री का ट्वीट....

जम्मू-कश्मीर के विभिन्न हिस्सों में ईद के मौके पर नमाज अता की गई..

ईद के मौके पर भारतीय सीमा सुरक्षा बलों ने बांग्लादेश के जवानों को मिठाई दी।

केंद्रीय रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने भी लोगों को बधाई दी।

केंद्रीय मंत्री किरण रिजिजू ने भी ट्वीट करते हुए बधाई दी।

मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर ने भी ट्वीट करते हुए ईद की बधाई दी।

रेत पर कलाकारी करने वाले प्रसिद्ध कलाकार सुदर्शन पटनायक ने भी ट्विट करते हुए ईद की बधाई दी।

बिहार के मुख्यमंत्री ने लोगों को बधाई देते हुए ट्वीट किया।

भाजपा नेता मुख्तार अब्बास नकवी ने दिल्ली के कश्मीरी गेट स्थित मस्जिद पंजा शरीफ में नमाज अता की।

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने लोगों को ईद की बधाई दी।

उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री और बसपा सुप्रीमो मायावती ने भी इस मौके पर देशवासियों को बधाई दी।

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने भी ट्वीट करते हुए बधाई दी।

असम की राजधानी गुवाहाटी में मैक्खोवा ईदगाह मैदान पर नमाज अता की गई।

ओडिशा में भी ईद का उत्साह देखा गया। इस मौके पर भुवनेश्वर में नमाज अदा करते हुए अफगानिस्तान और इथियोपिया मूल के लोग...

ईद के मौके पर दिल्ली की जामा मस्जिद में नमाज अता करते हुए लोग।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
ईद के मौके पर देश की तमाम मस्जिदों में विशेष नमाज पढ़ी गई।

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/eid-adha-mubarak-2019-kashmir-celebrates-eid-pm-narendra-modi-president-extend-wishes-to-01616261.html

कभी मजदूर थीं, अब सोलर लाइट बना रहीं महिलाएं; टाटा से 20 हजार लाइट का ऑर्डर मिला


रांची (सरफराज कुरैशी). ओरमांझी प्रखंड की 15 महिलाएं देश-दुनिया के लिए मिसाल बन गई हैं। कभी मजदूरी करने वाले ये हाथ मैकेनिक बन आज सोलर लाइट बना रहे हैं। ओरमांझी के मॉडल ट्रेनिंग सेंटर में मिली ट्रेनिंग के बूते सेल्फ हेल्प ग्रुप से जुड़ी ये महिलाएं अब तक 2000 सोलर लाइट बना चुकी हैं।

दो कंपनियों से 30 हजार सोलर लाइट का ऑर्डर मिला है। इसमें 20 हजार सोलर लाइट का ऑर्डर टाटा स्टील कंपनी ने दिया है। एमओयू होना बाकी है। यह सब प्रशासन के सहयोग से संभव हुआ है। एक लाइट बनाने की लागत करीब 95 रुपए है। बाजार में कीमत 120 रुपए है।लाइट में लगने वाला ट्रांसफॉर्मर भी महिलाएं खुद ही बना रही हैं। एलईडी बल्ब, सोलर प्लेट और बॉडी हैदराबाद से मंगाए गए हैं। कैपेसिटर, ट्रांजिस्टर व रजिस्टेंस कोलकाता व दिल्ली से लाए गए हैं।

6 माह की गारंटी,टूटता भीनहीं, पानी के अंदरजलता है
यह लाइट ऊंचाई से गिरने पर भी नहीं टूटती। इसे वाटर प्रूफ भी बनाया गया है। ट्रेनर श्याम प्रजापति के अनुसार, अगर कोई व्यक्ति पानी में भी इस लाइट को लेकर चला जाए तो यह जलती रहेगी। छह महीने की गारंटी भी है। सोलर पैनल इस लाइट की बेस प्लेट पर लगा है। चार्ज करने के लिए इसे उलटकर किसी बोतल में रखा जा सकता है। 45 मिनट में एक लाइट बनती है। महिलाएं रोज 400 रु. कमा रहीं हैं।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
साेलर लैंप बनाती महिलाएं।

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/once-was-a-laborer-now-as-mechanic-women-are-making-solar-lights-01616021.html

डिटेक्टिव एजेंसी से जांच करवाकर मुफ्त में गाय देती है गोशाला, अब तक 32 दान कर चुकी


नई दिल्ली(शेखर घोष).राजधानी के मयूर विहार फेज-1 में स्थित गोशाला लोगों को निशुल्क गाय गोद देती है। यह गोशाला यहां के राधाकृष्ण मंदिर में स्थित है। गोशाला के महंत बाबा मंगल दास 12 साल से यह मुहिम चला रहे हैं। वह खुद को गायों का संरक्षण करते हैं, उनके खान-पान का भी ख्याल रखते हैं।

खास बात यह जो व्यक्ति गाय को गोद लेने की इच्छा जताता है, उसकी जांच बाकायदा प्राइवेट डिटेक्टिव से कराई जाती है। जांच के दौरान देखा जाता है कि आवेदक गाय और अन्य पशुओं के प्रति प्रेम रखता है यानहीं। उसके पास पालन-पोषण के लिए क्या वक्त है।पूरी जांच के बाद आवेदक से बॉन्ड भरवाया जाता है कि गाय के बीमारहोने और मौत के बादगौशाला को सूचना देगा।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
गाय के साथ बाबा मंगल दास।

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/cows-adopt-a-free-cow-after-investigating-them-from-a-detective-agency-01616017.html

परीक्षा फीस में 2 गुना बढ़ोतरी की, दिल्ली में एससी-एसटी छात्रों की फीस 4 गुना बढ़ाई गई


नई दिल्ली. केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) ने बोर्ड परीक्षाओं की फीस बढ़ा दी है। सीबीएसई ने देशभर में सभी वर्ग के छात्रों का बोर्ड परीक्षा शुल्क 750 रु. से बढ़ाकर 1500 रुपए कर दिया है। 10वीं की बोर्ड परीक्षा के लिए छात्रों को 9वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षा के लिए 11वीं में पंजीकरण करना होता है।

वहीं, दिल्ली में एससी और एसटी छात्रों के लिए 10वीं और 12वीं बोर्ड परीक्षा की फीस में 4 गुना वृद्धि की गई है। अब इस वर्ग के छात्रों की परीक्षा फीस 350 रु. की जगह 1200 रुपए कर दी गई है। दिल्ली में एससी, एसटी वर्ग के छात्रों की परीक्षा फीस का 300 रुपए राज्य सरकार देती थी।

दृष्टि बाधित छात्रों को परीक्षा शुल्क से छूट दी गई
सीबीएसई ने पिछले हफ्ते फीस वृद्धि की अधिसूचना जारी की थी और जिन स्कूलों ने पुरानी व्यवस्था के तहत पंजीकरण प्रक्रिया शुरू की है, उन्हें छात्रों से नई फीस को वसूलने को कहा गया है। 12वीं की बोर्ड परीक्षा में अतिरिक्त विषय के लिए एससी/एसटी छात्रों को 300 रुपए अलग से देने होंगे। पहले कोई शुल्क नहीं लिया जाता था। सामान्य वर्ग के छात्रों को भी अतिरिक्त विषय के लिए 150 रुपए के बजाय अब 300 रु. देना होगा। दृष्टि बाधित छात्रों को परीक्षा शुल्क से छूट दी गई है।

माइग्रेशन फीस 350 रुपए की
माइग्रेशन फीस भी 150 से बढ़ाकर 350 रुपए कर दी गई है। वहीं, विदेश स्थित सीबीएसई स्कूलों में पढ़ रहेछात्रों को अब 5 विषयों के बोर्ड परीक्षा शुल्क के रूप में 10 हजार रुपए देने होंगे। यह पहले 5 हजार रुपए थी।

DBApp



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
CBSE Exam Fees 2019: CBSE Class 10 Class 12 Board Exam Fees, Central Board of Secondary Education Board Exam Fees

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/cbse-fees-hikes-board-exam-fees-for-sc-st-general-category-to-pay-double-01615829.html

राम के वंशजों के दावेदार बढ़े, अब मेवाड़ के पूर्व राजपरिवार ने लव का वंशज होने का दावा


जयपुर. सुप्रीम कोर्ट ने अयोध्या विवाद की सुनवाई के दौरान श्री राम के वंशजों के बारे में सवाल पूछा था। इसके बाद राजस्थान में कई लोगों ने राम के वंश होने का दावा किया। जयपुर राजघराने की दीयाकुमारी ने खुद को श्री राम के बड़े बेटे कुश के वंशज होने का दावा किया था। अब मेवाड़ के पूर्व राजपरिवार ने भी लव का वंशज होने का दावा किया है।

अयोध्या विवाद पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई चल रही है। 9 अगस्त को कोर्ट ने रामलला के वकील से पूछा था- क्या भगवान राम का कोई वंशज अयोध्या या दुनिया में है? इस पर वकील ने कहा था- हमें जानकारी नहीं।

मेवाड़ राजघराने ने बताया 76 पीढ़ियों का इतिहास

मेवाड़ के पूर्व महाराज महेंद्र सिंह मेवाड़ ने कहा है कि हमारा राजघराना राम के पुत्र लव का वंशज है। मेवाड़ में उनकी 76 पीढ़ियों का इतिहास दर्ज है। मेवाड़ राजघराने के ही लक्ष्यराज ने बताया कि कर्नल जेम्स टार्ड की पुस्तक के मुताबिक लव के वंशज कालांतर में गुजरात होते हुए आहाड़ यानी मेवाड़ में आए और यहां सिसोदिया साम्राज्य की स्थापना की थी। उन्होंने कहा कि श्रीराम भी भगवान शिव के उपासक थे और मेवाड़ राजपरिवार भी एक लिंगनाथ (शिवजी) का उपासक है।

‘विजेता प्रताप’ के लेखक प्रो. चंद्र शेखर शर्मा का कहना है कि मेवाड़ राजपरिवार का राज प्रतीक सूर्य है और वे शिव उपासक हैं। ये दोनों समानताएं श्रीराम के वंशज में भी रही हैं। चतुर चिंतामणि ने भी महाराणा प्रताप को श्रीराम का वंशज और रघुवंशी लिखा है।

राम के वंशज राघव राजपूत होने का दावा
कांग्रेस के प्रवक्ता सत्येंद्र सिंह राघव ने दावा किया है कि राम के वंशज राघव राजपूत हैं। श्री राघव ने बाल्मीकि रामायण के पृष्ठ संख्या 1671 का उल्लेख किया है, जिसमें राम की वंशावली की जानकारी है। श्री राघव ने बताया कि राम के पुत्र लव से राघव राजपूतों का जन्म हुआ जिनमें बगुर्जर, जयात और सिकरवारु का वंश चला, जबकि कुश से कुशवाह राजपूतों का वंश चला।

दीयाकुमारी ने श्रीराम के वंशज होने के सबूत दिए
जयपुर के राजपरिवार का कहना है कि वे भगवान राम के बड़े बेटे कुश के नाम पर ख्यात कच्छवाहा/कुशवाहा वंश के वंशज हैं। यह बात इतिहास के पन्नों में दर्ज है। पूर्व राजकुमारी दीयाकुमारी ने इसके कई सबूत भी दिए हैं। उन्होंने एक पत्रावली दिखाई है, जिसमें भगवान श्रीराम के वंश के सभी पूर्वजों का नाम क्रमवार दर्ज हैं। इसी में 289वें वंशज के रूप में सवाई जयसिंह और 307वें वंशज के रूप में महाराजा भवानी सिंह का नाम लिखा है। इसके अलावा पोथीखाने के नक्शे भी हैं।

DBApp



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
चित्तौड़गढ़ का किला।

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/god-ram-vanshaj-ayodhya-ram-mandir-hearing-in-supreme-court-updates-01616233.html

ईद की खरीदारी के लिए प्रतिबंधों में ढील, आज लोगों को मस्जिद जाकर नमाज पढ़ने की इजाजत


उपमिता वाजपेयी, श्रीनगर, डाउनटाउन के ईदगाह मैदान से (शहर का सबसे संवेदनशील क्षेत्र). श्रीनगरमें डाउनटाउन के ईदगाह इलाके का मशहूर मैदान। आमतौर पर क्रिकेट या फिर प्रदर्शनियों के लिए मशहूर है, लेकिन बकरीद से पहले ये घाटी में भेड़ों का सबसे बड़ा बाजार होता है। ढाई सौ किमी दूर से परबत और घाटियों को पैदल पार कर गुज्जर और बक्करवाल हर साल अपनी भेड़-बकरी लेकर यहां पहुंचते हैं। इस बार भी आए हैं, लेकिन इस बार जानवरों के खरीदार कम हैंं।


कश्मीर का हर परिवार ईद पर दो से तीन भेड़ों की कुर्बानी देता है। इस बार कुर्बानी देने की जगह लोग मदरसों में पैसे देने की सोच रहे हैं। जो कुर्बानी देने का मन बना भी रहे हैं तो बमुश्किल एक भेड़ की। ऐसी सख्ती बनी रही तो भेड़ का मीट रिश्तेदारों तक पहुंचाएंगे कैसे, आखिर इसकी बर्बादी गुनाह जो है। यूं तो एक भेड़ 25 से 30 हजार के बीच मिलती है, 260 रुपए किलो के हिसाब से। इस बार बक्करवाल इसे 12 से 20 हजार के बीच भी बेचने को राजी हैं। भेड़ों की कम कुर्बानी से घाटी में करीब 300 करोड़ रु. के नुकसान का अंदेशा है। पिछले साल ईद वाले हफ्ते में कश्मीर में अकेले जम्मू-कश्मीर बैंक के एटीएम से 800 करोड़ रु. निकाले गए थे। इनका सबसे ज्यादा हिस्सा कुर्बानी के भेड़-बकरी, कपड़ों, बेकरी आइटम और ईदी पर खर्च होता है।

पहला मौका है जब सफाकदल के मकबूल साहब अपने नाती-पोतों के लिए कपड़े नहीं खरीद पा रहे। बंद दुकानों में ईद के लिए लाया गया बेकरी और ड्रायफ्रूट्स जमा हैं। हालांकि रविवार को घाटी में कर्फ्यू में छूट दी गई, ताकि लोग जरूरी सामान खरीद सकें। राशन और बेकरी की दुकानें रविवार को खुलीं और उन पर जमकर बिक्री भी हुई। ईद पर उन चीजों पर भी खर्च किया जाता है, जिनके लिए सालभर इंतजार होता है। अनंतनाग के रउफ कहते हैं कि उन्होंने अपनी सारी गाड़ियां बकरीद पर ही खरीदी हैं,लेकिन इस बार ऐसा नहीं होगा। इंटरनेट बंद होने से कई सरकारी मुलाजिमों को सैलरी भी नहीं मिली है। किसी भी सामान्य परिवार का ईद पर 50 से 80 हजार रुपए खर्च होता है, जो इस साल आधा रहेगा। इससे ईद के कारोबार को कम से कम 500 करोड़ रु. का नुकसान होगा।

घरों में ईद मनाने के लिए डरे-सहमे लौटे कश्मीरी

खर्च और सेलिब्रेशन चाहे जैसा हो, पर दिल्ली से आनेवाली हर फ्लाईट ईद मनाने घर आ रहे लोगों से भरी है। लेकिन एयरपोर्ट पर उतरने वाले चेहरों पर असमंजस है। दूर-दराज गांवों में अपने घरों तक कैसे पहुंचेंगे? टैक्सी मिलेगी? हालात ठीक होंगे? ऐसे कई सवाल चेहरों पर हैं। इनमें कुछ स्टूडेंट्स हैं और बाकी बाहर नौकरी करने वाले। ज्यादातर वो लोग जिनकी टिकटें पहले से बुक थीं। जब हफ्तेभर से घर पर बात नहीं हुई तो इन्होंने टिकट कैंसिल करने की बजाए घर पहुंचने का फैसला किया। साइमा मुश्ताक श्रीनगर ने नाटिपोरा में रहती हैं। पिता, चाचा, भाई सभी पुलिस में हैं और खुद बांग्लादेश में मेडिकल की पढ़ाई कर रही हैं। बांग्लादेश से सीधी फ्लाइट ली थी, पर मौसम खराब होने के चलते उन्हें श्रीनगर पहुंचने में एक दिन देरी हो गई। उन्हें नहीं पता कि वह एयरपोर्ट से घर कैसे जाएंगी। घरवालों की फिक्र ही है कि कश्मीर खींच लायी, वरना यहां घरों में कैद होना किसी को गंवारा नहीं।

श्रीनगर ने पॉश इलाके सिविल लाइन्स में रहनेवाले रिजवान के साथ ऐसा पहली बार हुआ कि वो अम्मी से इतने दिनों तक बात नहीं कर पाए हैं। वह कहते हैं कि हुर्रियत की हड़ताल और बर्फ के चलते घर में बंद रहना और सामान जुटाने की आदत हम कश्मीरियों को हमेशा से है, पर फोन बंद होना अजाब है। ज्यादा दिक्कत ईद पर आने-जाने वालों को हो रही है। दिल्ली यूनिवर्सिटी में पढ़ने वाले इशफाक ईद में नहीं आने वाले थे। लेकिन कैंपस में जब लोग अनुच्छेद- 370 हटने पर पटाखे फोड़ने लगे और उसे चिढ़ाने लगे तो उसके लिए वहां रहना मुश्किल हो गया। इशफाक कहते हैं- ‘सब मुझसे पूछने लगे कि तुम्हें कैसा लग रहा है? अब उन्हें क्या बताता… कई लोगों को तो कह दिया कि मैं जम्मू से हूं और बहुत खुश हूं, ताकि होस्टल के लड़के मुझे परेशान न करें।’ इशफाक कहते हैं जब आखिरी बार घरवालों से बात हुई तो सब डरे हुए थे। उन्हें लग रहा था पता नहीं कश्मीर में ऐसा क्या होनेवाला है कि टूरिस्टों को बाहर निकाल रहे हैं। उनके घरवालों ने ये कहकर आखिरी बार फोन काटा था कि जिंदा रहे तो जरूर बात करेंगे। खैरियत है कि जंग जैसा कुछ नहीं हुआ।

‘नेताओं ने कश्मीरियों का बेड़ा गर्क किया’

370 के मसले पर अभी कोई कुछ नहीं कह रहा, लेकिन राशिद डार को उम्मीद है इस नए फैसले से शायद अब उनके यहां भी नौकरियां आएंगी। उन्हें घाटी से दूर रोजगार ढूंढने नहीं जाना पड़ेगा। राशिद कहते हैं नेताओं ने कश्मीर का बेड़ा गर्क किया है। उमर अब्दुल्ला ने बेंटले और ऑडी कार ली जबकि मुझे हर रोज 20 किमी पैदल चलकर बिल बांटने जाना पड़ता था। यही वजह थी कि वह अपनों को छोड़कर नौकरी करने दिल्ली आया। उसे उम्मीद है कि अगली ईद उसे यूं बाहर से मेहमान बनकर नहीं आना पड़ेगा।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
Eid Adha Mubarak: Kashmir Eid News; Jammu And Kashmir Special Report On Eid Al Adha Celebration After Article 370 Repeal

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/jammu-and-kashmir-special-report-on-eid-al-adha-celebration-after-abrogation-of-article-37-01616037.html

नायडू ने कहा- कभी उपराष्ट्रपति नहीं बनना चाहता था, नाम का ऐलान होने पर मेरी आंखों में आंसू थे


चेन्नई.उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने कहा है कि वे कभी यह पद नहीं चाहते थे। बल्कि उनकी इच्छा जनसंघ के नेता और सामाजिक कार्यकर्ता नानाजी देशमुख की तरह रचनात्मक कार्य करने की थी। रविवार को अपनी किताब 'लिसनिंग, लर्निंग एंड लीडिंग' के विमोचन कार्यक्रम में नायडू ने बताया कि जब उपराष्ट्रपति के लिए नाम का ऐलान हुआ तो मेरी आंखों में आंसू थे। क्योंकि मुझसे कहा गया था कि अब आप भाजपा दफ्तर नहीं जा पाएंगे और न ही पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ चर्चा कर पाएंगे।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
वेंकैया नायडू। -फाइल

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/venkaiah-naidu-on-vice-president-post-says-never-thought-to-become-vice-president-not-sui-01616153.html

दुर्गा पूजा समितियों से टैक्स वसूलने के खिलाफ 13 को धरना देंगी ममता, कहा- त्योहार सभी के लिए


कोलकाता. पश्चिम बंगाल की दुर्गा पूजा समितियों को आयकर विभाग ने नोटिस भेजा है। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने दुर्गा समितियों से टैक्स वसूलने पर केंद्र सरकार की आलोचना की। तृणमूल प्रमुख ममता ने कहा है कि वे 13 अगस्त को केंद्र की भाजपा सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन करेंगी।

ममता ने ट्वीट किया, ‘‘आयकर विभाग ने दुर्गा पूजा आयोजित करने वाली कई समितियों को टैक्स के भुगतान के लिए नोटिस भेजा है। हमें अपने सभी राष्ट्रीय त्योहारों पर गर्व है। यह त्योहार सभी के लिए होते हैं। हम नहीं चाहते कि किसी भी पूजा त्योहार पर टैक्स लगाया जाए। यह आयोजकों पर अतिरिक्त भार होगा।’’

ममता ने लोगों से धरना में शामिल होने की अपील की

तृणमूलप्रमुख ने ट्वीट किया, ‘‘बंगालसरकार ने गंगा सागर मेला पर लगे सभी टैक्स को हटा लिया था। हम विरोध और मांग करेंगे कि दुर्गा पूजा और दुर्गा पूजा समितियों पर कोई टैक्स न लगाया जाए।’’ ममता ने लोगों से धरना प्रदर्शन में शामिल होने की अपील भी की।

प्रताड़ित करने का यह उनका दूसरा तरीका: ममता
इससे पहले भी ममता ने 23 जुलाई को कहा था, ‘‘पूजा समितियों को इनकम टैक्स के दायरे में लाने का फैसला सही नहीं है, मैं इसकी निंदा करती हूं। मुझे यह बताते हुए दुख हो रहा है कि प्रताड़ित करने का यह उनका दूसरा तरीका है। चुनाव के दौरान वे (भाजपा) हिंदू धर्म की बात करने के साथ दुर्गा पूजा समितियों से टैक्स वसूलने लगते हैं। दुर्गा पूजा हिंदूओं का बड़ा त्योहार है।’’

DBApp



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
ममता बनर्जी। -फाइल फोटो

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/mamata-banerjee-protest-against-centre-govt-tax-on-durga-puja-committees-in-bengal-01615803.html

शिवराज ने नेहरू को अपराधी कहा तो दिग्विजय बोले- शर्म करो, आप उनके पैरों की धूल भी नहीं


भोपाल.मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 को लागू करने के लिएपूर्व प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू को अपराधी बताया था। रविवार को उनके इस बयान परकांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने जवाब दिया। उन्होंनेकहा कि शिवराज नेहरूजी के पैरों की धूल भी नहीं हैं। उन्हेंशर्म आनी चाहिए। वहीं, मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा कि नेहरू आधुनिक भारत के निर्माता थे। निधन के 55 साल बाद उन्हेंअपराधी कहना बेहद आपत्तिजनक है।

कश्मीर मुद्दे पर दिग्विजय ने कहा कि इंटरनेशनल मीडिया में सबकुछ दिखाया जा रहा है। हमें भी देखना चाहिए कि कश्मीर में आखिर हो क्या रहा है। उन्होंने (सरकार) अपने हाथ आग में जला लिए हैं। हमारी प्राथमिकता कश्मीर को बचाने की होनी चाहिए। मैं मोदीजी, अमित शाह और अजीत डोभाल से अपील करता हूं कि वे सावधान रहें, वरना हम कश्मीर खो सकते हैं।

'नेहरू संघर्ष विराम का ऐलान न करते तो पूरा कश्मीर हमारा होता'

शिवराज ने शनिवारको भुवनेश्वरमें कहा था कि नेहरू एक अपराधी हैं, इसके दो कारण हैं। पहला- जब भारतीय फौज कश्मीर से पाकिस्तानी कबाइलियों को खदेड़ते हुए आगे बढ़ रही थी, ठीक उसी वक्त नेहरू ने संघर्ष विराम का ऐलान कर दिया। इस वजह से कश्मीर का एक-तिहाई हिस्सा पाकिस्तान के कब्जे में रह गया। अगर कुछ दिन और संघर्ष विराम की घोषणा नहीं होती तो पूरा कश्मीर हमारा होता। दूसरी- नेहरू ने जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 लागू किया। एक देश में दो निशान, दो विधान और दो प्रधान कैसे अस्तित्व में रह सकते हैं? यह देश के साथ नाइंसाफी नहीं, बल्कि अपराध भी है।

राहुल और कांग्रेस कश्मीर में शांति नहीं चाहती: शिवराज
राहुल गांधी के कश्मीर में हिंसा की खबरों और उन पर चिंता जताने पर भी शिवराज ने रविवार को कांग्रेस पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि अनुच्छेद 370 हटने के बाद जम्मू-कश्मीर में शांति है। यही राहुल और कांग्रेस की तकलीफ है। वे नहीं चाहते कि कश्मीर में शांति रहे। कश्मीर में अशांति नेहरूजी के गलत फैसलों के कारण थी। अनुच्छेद 370 कश्मीर के लिए अभिशाप था, आतंकवाद का कारण था। इसने कश्मीर की जनता का काफी नुकसान किया। अब नेहरूजी की गलती को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सुधारा है। कांग्रेस परेशान क्यों है?

DBApp



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह।

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/digvijay-singh-to-shivraj-singh-chouhan-on-jawahar-lal-nehru-jammu-kashmir-violence-01616035.html

चिदंबरम बोले- कश्मीर मुस्लिम बहुसंख्यक, इसलिए मोदी सरकार ने अनुच्छेद 370 हटाया


चेन्नई. पूर्व केंद्रीय मंत्री पी चिदंबरम ने अनुच्छेद 370 खत्म किए जाने के फैसले पर सरकार को आड़े हाथ लिया। उन्होंने रविवार को चेन्नई मेंकहा कि मोदी सरकार ने जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने का फैसला इसलिए लिया क्योंकि वहां मुसलमान बहुसंख्यक हैं। अगर वहां हिंदू बहुसंख्यक होते तो यह फैसला नहीं लिया जाता।

चिदंबरम ने कहा, ‘‘जम्मू-कश्मीर भारत का हिस्सा है। भाजपा को छोड़कर इसमें किसी को कोई शक नहीं है। जो लोग 72 साल का इतिहास नहीं जानते, उन्होंने सिर्फ ताकत दिखाने के लिए अनुच्छेद 370 को खत्म कर दिया। संविधान के अनुच्छेद 371 के कई खंडों के तहत भी कई राज्यों को विशेष दर्जा दिया गया है।’’

‘प्रदर्शनकारियों को दबाया गया’
चिदंबरम ने यह भी कहा कि अनुच्छेद 370 का विरोध कर रहे हजारों प्रदर्शनकारियों को दबाया गया। उन पर गोलियां चलाईं गईं, आंसू गैस के गोले छोड़े गए। यह सब सच है। मैं इस बात को लेकर भी दुखी हूं कि देश की 7 पार्टियों ने अनुच्छेद 370 हटाने का समर्थन किया। तृणमूल कांग्रेस ने सदन में इस मुद्दे पर वॉकआउट तो किया लेकिन उन्होंने अंतर नहीं दिखाया।

पूर्व वित्त मंत्री के मुताबिक, ‘‘प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद देश को संबोधित किया। उन्होंने चुनकर कुछ ऐसे कानूनों के बारे में बताया जो अब जम्मू-कश्मीर पर लागू नहीं होंगे। मैं ऐसे 90कानूनों को बता सकता हूं जो वहां अब भी लागू हैं।’’

‘नेहरू-पटेल में कोई मतभेद नहीं रहे’
चिदंबरम के मुताबिक- ‘‘देश के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू और पहले गृह मंत्री सरदार वल्लभभाई पटेल के बीच कभी किसी तरह के मतभेद नहीं रहे। पटेल का आरएसएस से कोई संबंध नहीं था। भाजपा के पास कोई नेता नहीं है, वे हमारे नेताओं को चुरा रहे हैं। इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ता। कौन, किसका है, यह बात इतिहास में दर्ज है और इसे भुलाया नहीं जा सकता।’’

5 अगस्त को राज्यसभा में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने अनुच्छेद 370 हटाने के प्रस्ताव रखा था। इसके कुछ देर बाद ही राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने अनुच्छेद को हटाने के लिए अधिसूचना जारी कर दी। अब जम्मू-कश्मीर और लद्दाख दो अलग-अलग केंद्र शासित प्रदेश होंगे। जम्मू-कश्मीर में दिल्ली की तरह विधानसभा होगी।

DBApp



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
Chidambaram slams Narendra Modi Govt Over Article 370, Says Kashmir was Muslim-dominated

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/chidambaram-says-article-370-nixed-as-j-k-was-muslim-dominated-01616031.html

समझदारी से चयन करें तो यूलिप से बेहतर रिटर्न संभव


हाल में मेरे एक क्लाइंट ने बताया वह कोई भी बड़ा निवेश मंगलवार को करना पसंद करता है। तो मुझे यह बात सुनकर हंसी आ गई। मैंने इससे इतर उसे लाख समझाने की कोशिश की। लेकिन विफल रहा। बाद में पता चला कि उसने शेयरों में मंगलवार को उस दौरान निवेश किया जब बाजार चढ़ रहा था। कीमतें ऑल टाइम हाई के आसपास थीं। जिस अंधविश्वास के सहारे उसने शेयरों में निवेश किया, वह उसे काफी महंगा साबित हुआ। मंगलवार के चक्कर में उसने ऊंची कीमतों पर शेयर खरीदे, जो गिरावट में कम भाव पर भी मिल सकते थे। मैंने देखा है कि लोग निवेश के फैसले वास्तविकता के आधार पर नहीं, बल्कि कोरे अंधविश्वास और पहले से बनाए कल्पित विश्वास के आधार पर लेते हैं। कई बार यह अंधविश्वास तक ही सीमित नहीं रहता, मिथकों के आधार पर भी लिए जाते हैं। मैं यहां पर्सनल फाइनेंस से जुड़े तीन ऐसे ही मिथकों का जिक्र कर रहा हूं, जिनसे आपको बचना चाहिए..

मिथक 1. सोने और शेयरों में उल्टा संबंध है
सोने में निवेश को लेकर मिथक यह है कि शेयरों में तेजी के वक्त सोना सस्ता होता है जबकि इसके उलट स्थिति में सोना महंगा होता है। लेकिन सच्चाई यह है कि शेयरों में अचानक तेज बिकवाली के वक्त सोने में उछाल आता है। लेकिन कुल-मिलाकर दोनों के बीच कोई संबंध नहीं है। मसलन 1993 में शेयरों की कीमतें 9.94% बढ़ीं थीं, तो सोने की कीमतें भी 17.35% बढ़ी थी। वर्ष 2000 में शेयरों में 9.03% बढ़त दर्ज हुई थी, तो सोने में भी 6.26% की बढ़त दर्ज हुई थी।

हकीकत: शेयरों की अचानक गिरावट से बचाव के लिए सोने में निवेश कर सकते हैं। लेकिन इनका शेयरों से कोई उलटा संबंध नहीं है।

मिथक 2. यूलिप्स महंगे होते हैं और कम रिटर्न देते हैं
यूनिट लिंक्ड इंश्योरेंस प्लान्स (यूलिप्स) के बारे में यह मिथक इन प्रोडक्ट्स की मिस-सेलिंग का परिणाम हैं। लेकिन हम यूलिप्स के फंड परफॉरमेंस का विश्लेषण करें तो यह बात सामने आती है कि इन्होंने पॉलिसीधारकों को लंबी अवधि में अच्छा रिटर्न दिया है। इनके जरिए वह अपने वित्तीय लक्ष्यों को हासिल कर सकते हैं। इसके अलावा यूलिप्स पर लॉन्ग टर्म कैपिटल गेन टैक्स (एलटीसीजी) से भी छूट प्राप्त है।
हकीकत: यूलिप प्लान पूरी समझदारी के साथ चुनते हैं तो यह बाजार से आपको बेहतर रिटर्न दिला सकते हैं।

मिथक 3. रियल एस्टेट में निवेश से बच्चों की शिक्षा के लिए मोटी रकम जोड़ सकते हैं
ज्यादातर लोग रियल एस्टेट को निवेश का सबसे सुरक्षित माध्यम मानते हैं। लेकिन हकीकत यह है कि तत्काल नकदी की जरूरत के वक्त रियल एस्टेट का निवेश बड़ी समस्या भी बन सकता है। इसकी वजह यह है कि प्रॉपर्टी को बेचने में काफी समय लगता है। पेपर वर्क भी अधिक होता है और स्टाम्प ड्यूटी भी लगती है। बच्चों की शिक्षा के लिए बचत के लिहाज से आपको लिक्विड इन्स्ट्रूमेंट्स में निवेश करना चाहिए। जरूरत के वक्त इन्हें बेचकर आप तत्काल नकदी जुटा सकते हैं।
हकीकत: आपकी प्राथमिकता तत्काल नकदी प्राप्त करने की हो, तो आपको रियल एस्टेट में निवेश से बचना चाहिए।

राहुल जैन, हेड, पर्सनल वैल्थ एडवाइजरी, एड्लवाइज

- ये लेखक के निजी विचार हैं। इनके आधार पर निवेश से नुकसान के लिए दैनिक भास्कर जिम्मेदार नहीं होगा।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
Better returns possible from ULIPs If choose wisely

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/better-returns-possible-from-ulips-if-choose-wisely-01616089.html

होटल ने 2 उबले अंडे के लिए 1700 रु. का बिल दिया, लोगों ने पूछा- अंडे से सोना निकला था क्या?


मुंबई.फोर सीजन्स होटल ने अपने ग्राहक को दो उबले अंडे के बदले 1700 रुपए का बिल थमा दिया। कार्तिक धर नामक एक व्यक्ति ने ट्विटर पर होटल के बिल को पोस्ट किया और कैप्शन लिखा- ‘मुम्बई के फोर सीजन्स में दो अंडे के लिए 1700 रुपए।’ इससे पहले, चंडीगढ़ के जेडब्ल्यू मैरियॉट होटल ने अभिनेता राहुल बोस को दो केलोंके बदले 442 रुपए का बिल थमाया था। इसके बाद चंडीगढ़ के उत्पाद एवं कर विभाग ने होटल पर 25000 रुपए का जुर्माना लगाया था।

कार्तिक ने राहुल बोस को ट्विटर पर टैग कर लिखा- भाई आंदोलन करें? होटल के बिल पर दो आमलेट की भी 1700 रुपए कीमत लिखी हुई थी। हालांकि होटल ने अभी तक इस पर कोई टिप्पणी नहीं की है। एक यूजर ने लिखा, “इस अंडे के साथ सोना भी निकला है क्या? एक अन्य यूजर ने लिखा, “मुर्गी जरूर किसी अमीर परिवार से होगी...।”

फेडरेशन ऑफ होटल एंड रेस्टोरेंट ऑफ इंडिया ने गलत नहीं माना था

पिछले महीने ही अभिनेता बोस के साथ इस तरह की घटना पर फेडरेशन ऑफ होटल एंड रेस्टोरेंट ऑफ इंडिया ने कहा कि होटल ने कुछ भी गलत नहीं किया था। उसने कहा था, “केला को खुदरा मुल्य पर खरीदा जा सकता है। इसके बाद होटल इस पर सर्विस, प्लेट, कटलरी आदि उपलब्ध करातेहैं। सड़क किनारे एक कॉफी 10 रुपए की मिलती है लेकिन लग्जरी होटल में इसी की कीमत 250 रुपए होतीहै। इसमें कुछ भी गलत नहीं है।” इसके बाद चंडीगढ़ केउत्पाद और कर विभाग ने होटल को कारण बताओ नोटिस जारी किया और 25000 रुपए का जुर्माना लगाया था।

DBApp



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
फोर सीजन्स होटल की फाइल फोटो

Click here to Read full Details Sources @ /national/news/mumbai-hotel-charged-their-guest-rs-1-700-for-2-boiled-eggs-01615799.html

Danik Bhaskar Rajasthan Danik Bhaskar Madhya Pradesh Danik Bhaskar Chhattisgarh Danik Bhaskar Haryana Danik Bhaskar Punjab Danik Bhaskar Jharkhand Patrika : Leading Hindi News Portal - Bhopal Patrika : Leading Hindi News Portal - Jaipur Danik Bhaskar National News Nai Dunia Latest News Patrika : Leading Hindi News Portal - Lucknow The Hindu Patrika : Leading Hindi News Portal - Astrology and Spirituality Danik Bhaskar Uttar Pradesh Hindustan Hindi Patrika : Leading Hindi News Portal - Mumbai Nai Dunia Madhya Pradesh News Patrika : Leading Hindi News Portal - Miscellenous India Danik Bhaskar Delhi onlinekhabar.com Patrika : Leading Hindi News Portal - Varanasi Patrika : Leading Hindi News Portal - Business Patrika : Leading Hindi News Portal - Sports NDTV News - Latest Patrika : Leading Hindi News Portal - Education Danik Bhaskar Himachal+Chandigarh Danik Bhaskar Technology News Patrika : Leading Hindi News Portal - World News 18 Orissa POST Moneycontrol Latest News Danik Bhaskar Health News ET Home NDTV Khabar - Latest NDTV News - Top-stories NDTV Top Stories Scroll.in hs.news Danik Bhaskar International News Patrika : Leading Hindi News Portal - Entertainment Telangana Today Patrika : Leading Hindi News Portal - Bollywood Danik Bhaskar Breaking News India Today | Latest Stories NDTV News - India-news Patrika : Leading Hindi News Portal - Mobile ABC News: International Rising Kashmir Business Standard Top Stories Bharatpages India Business Directory Danik Bhaskar Madhya Pradesh NSE News - Latest Corporate Announcements Jammu Kashmir Latest News | Tourism | Breaking News J&K NDTV News - Special Baseerat Online Urdu News Portal The Dawn News - Home Nagpur Today : Nagpur News Danik Bhaskar Bihar News Stocks-Markets-Economic Times NDTV Videos View All
Directory Listing in HIMACHAL PRADESH ANDHRA PRADESH MEGHALAYA TELANGANA JAMMU & KASHMIR ASSAM Puducherry MANIPUR LAKSHDWEEP TRIPURA RAJASTHAN CHATTISGARH Sikkim PUNJAB MADHYA PRADESH UTTAR PRADESH WEST BENGAL DELHI TAMIL NADU MIZORAM HARYANA GUJRAT MAHARASHTRA BIHAR JHARKHAND DAMAN & DIU GOA KERALA ANDAMAN & NICOBAR ORISSA ARUNACHAL PRADESH KARNATAKA Dadra and Nagar NAGALAND UTTARAKHAND CHANDIGARH